उदय बुलेटिन
www.udaybulletin.com
आनंद पर बन रही बायोपिक ‘सुपर 30’  
आनंद पर बन रही बायोपिक ‘सुपर 30’  |ऋतिक रोशन (Hrithik Roshan)- Instagram
बॉलीवुड बुलेटिन

गणितज्ञ आनंद कुमार की बायोपिक फिल्म ‘सुपर 30’ के लिए करना होगा और इंतजार 

सुपर 30 के संस्थापक और गणितज्ञ आनंद कुमार पर बन रही बायोपिक ‘सुपर 30’ अब और बड़ी और लंबी हो गई है।

AKANKSHA MISHRA

AKANKSHA MISHRA

पटना: सुपर 30 (Super-30) के संस्थापक और गणितज्ञ आनंद कुमार (Anand Kumar) पर बन रही बायोपिक 'सुपर 30' (Super-30) अब और बड़ी और लंबी हो गई है। निर्माताओं ने फिल्म के लिए फिर से थोड़ा और शूटिंग करने का फैसला किया है, जिससे इस बायोपिक को और व्यापक रूप दिया जा सके। इस फिल्म में अभिनेता ऋतिक रोशन (Hrithik Roshan) आनंद कुमार का किरदार निभा रहे हैं।

निर्माताओं का उद्देश्य है कि आनंद कुमार (Anand Kumar) की जीवन कहानी इतना वास्तविक और दिलचस्प हो कि ज्यादा से ज्यादा दर्शकों तक पहुंचाने में वे लोग सफल हो सकें। निर्माता के एक करीबी सूत्र का कहना है कि सुपर 30 को लेकर अभी और कुछ शूटिंग होगी।

सूत्र ने कहा कि पिछले दिनों आनंद कुमार (Anand Kumar) के साथ घटी और कुछ नई घटनाओं को जोड़ा जा रहा है जिसकी चर्चा पहले फिल्म में नहीं थी। आनंद कुमार सिर्फ एक चर्चित गणितज्ञ नहीं हैं बल्कि उनके व्यक्तित्व के कई पहलू हैं जो पूरी तरह से दुनिया के सामने आना चाहिए।

इस विषय में आनंद कुमार का कहना है कि कहानी के विस्तार के लिए कई और घटनाओं का जोड़ना जरूरी है । उन्होंने कहा कि फिल्म के अभिनेता ऋतिक रोशन (Hrithik Roshan) भी इस विस्तार से सहमत हैं।

आनंद ने शुक्रवार को बताया, "हाल के दिनों में मुझ पर कई ओर से हमला किया गया। हाल ही में मेरे भाई को एक सड़क दुर्घटना का सामना करना पड़ा। मुझे संदेह है कि इस दुर्घटना के बहाने मेरे भाई की हत्या के प्रयास किए गए हैं। मेरी सफलता के बाद कई लोग ईष्र्यावश मेरे दुश्मन हो गए हैं। वैसे, मेरा बुरा चाहने वालों की तुलना में मेरे शुभचिंतकों की संख्या कई गुना अधिक है। मैं चाहता हूं कि यह सब फिल्म में हो। इसके लिए पूरी यूनिट सहमत हो गई है।"

आनंद कहते हैं, यह खुशी की बात है कि लोगों को 'सुपर 30 (Super-30)' में असली आनंद कुमार देखने को मिलेगा। ऋतिक (Hrithik Roshan) ने सिर्फ मेरे किरदार को नहीं निभाया है बल्कि उन्होंने वंचित छात्रों को शिक्षा प्रदान करने के लिए मेरे आजीवन मिशन को समझा है।"

--आईएएनएस