उदय बुलेटिन
www.udaybulletin.com
GQ मेन ऑफ द ईयर अवॉर्ड्स 2018 “ के दौरान राधिका आप्टे 
GQ मेन ऑफ द ईयर अवॉर्ड्स 2018 “ के दौरान राधिका आप्टे |IANS
बॉलीवुड बुलेटिन

“मुझे नाप-तोलकर बोलना नहीं आता ,’फेमिनिज्म’ को लेकर लोगों में समझ कम”-राधिका आप्टे

हिंदी फिल्म इंडस्ट्री में कुछेक कलाकार ही ऐसे हैं, जो हर मुद्दे पर अपनी राय बेबाकी से सामने रखते हैं। इस फेहरिस्त में राधिका का नाम भी है।

Uday Bulletin

Uday Bulletin

नई दिल्ली: दमदार अभिनय के साथ अपनी बेबाकी के लिए भी पसंद की जाने वाली अभिनेत्री राधिका आप्टे का कहना है कि नारीवाद (फेमिनिज्म) को लेकर लोगों में भ्रम की स्थिति है और यही वजह है कि आजकल इसके मायने बदल गए हैं। यह समझना बहुत जरूरी है कि अगर कोई महिला खुद को फेमिनिस्ट कहती है कि तो इसका मतलब है कि वह पुरुषों के समान अधिकार की हिमायती है, न कि पुरुषों को दबाने की।

निर्देशक विक्रमादित्य मोटवानी ने हाल ही में राधिका आप्टे को '2018 की राजकुमार राव' कहा था। इस बारे में पूछने पर राधिका कहते हैं, "यह मेरे लिए किसी कॉम्पलिमेंट से कम नहीं है, क्योंकि मैं राजकुमार राव को बेहद पसंद करती हूं और उनके साथ काम करना चाहती हूं। वह कमाल के कलाकार होने के साथ कमाल के इंसान भी हैं।"

हिंदी फिल्म इंडस्ट्री में कुछेक कलाकार ही ऐसे हैं, जो हर मुद्दे पर अपनी राय बेबाकी से सामने रखते हैं। इस फेहरिस्त में राधिका का नाम भी है। राधिका इस बेबाकी के बारे में आईएएनएस से कहती हैं, "सच कहूं, मैं हर मुद्दे पर अपनी राय नहीं रखती। लेकिन हां, अगर मुझसे किसी मुद्दे पर कुछ पूछा जाता है तो मैं आपको सच ही बताऊंगी। मुझे नाप-तोलकर बोलना नहीं आता।"

राधिका फिल्मों के साथ नेटफ्लिक्स की कई वेब सीरीज में भी नजर आ रही हैं। इस अनुभव पर वह कहती हैं, "मुझे एक्साइटिंग चीजें करने में बेहद मजा आता हैं। मैं उसी तरह की फिल्में चुनती हूं, जो मुझे एक्साइटिंग लगती हैं। फिल्में चुनते वक्त कई चीजें मेरे जेहन में रहती हैं और उन सबको मैं ध्यान में रखती हूं। मेरा मानना है कि जिस काम में मजा आए, सिर्फ वही करना चाहिए। अगर कोई यह सोचे कि वह सिर्फ अपनी पर्सनैलिटी के मुताबिक ही काम करेगा तो यह मुमकिन नहीं है।"

राधिका आगे कहती हैं, "बदलाव समय की मांग है। आजकल टीवी का कंटेट इतना खराब हो चुका है कि उसकी जगह लोग वेब सीरीज देखना पसंद कर रहे हैं। वेब सीरीज के कंटेट बहुत उम्दा हैं। दर्शक अच्छा कॉन्सेप्ट व कंटेट ही देखना चाहते हैं और वेब सीरीज वह दे रही है। जिस दिन वेब सीरीज भी घिसे-पिटे कॉन्सेप्ट लेकर आ जाएगी, उस दिन दर्शक उसे छोड़कर कुछ बेहतर की तलाश में निकल जाएंगे।"

राधिका को हाल ही में हेयर ऑयल ब्रांड 'ट्रू रूट्स' का ब्रांड एंबेसेडर भी बनाया गया है। वह कहती हैं, "प्रेजेंटेबल दिखने के लिए बालों का सुंदर दिखना बहुत जरूरी है। आपके बाल आपकी पर्सनैलिटी को चार्म करते हैं। मैं तो सभी से कहती हूं कि खूब पानी पीजिए, फल-सब्जियां खाइए। मैंने हाल ही में ट्रू रूट्स बोटैनिकल हेयर टॉनिक लगाना शुरू किया है। यह बालों को सफेद होने से रोकता है।"