ताहिर हुसैन
ताहिर हुसैन|udaybulletin.com
देश

आखिर कौन है ये ताहिर हुसैन, क्यों बना दिल्ली हिंसा का मास्टरमाइंड ?

यूपी का रहने वाला ताहिर किस तरह से दिल्ली हिंसा को अंजाम देकर मोस्टवांटेड की लिस्ट में आ गया आइए जानते हैं।

Puja Kumari

Puja Kumari

दिल्ली में जो दंगा व हिंसा हुआ उसे लोग अभी भी भूल नहीं पा रहे हैं। खासकर वो लोग जो वहां रहते थे और जिन्होंने अपनी आंखों के सामने अपनों को मरते देखा। आज भी वो अपने घर से दिल्ली की सड़कों पर निकलने में डर रहे।

हालांकि इस दंगे के खत्म होने के बाद कई लोगों का नाम सामने आया , जो इसे और भड़काने का काम कर रहे थे। पर इन सब के बीच मुख्य रूप से ताहिर हुसैन का नाम सामने आ रहा है। ताहिर हुसैन जिन्हें आप सभी अभी तक नहीं जानते होंगे लेकिन पिछले 2 दिनों से इसके बारे में इतनी सारी खबरें आ रही है और इतने गंभीर आरोप लगे हैं कि हर कोई इसके बारे में जानने की इच्छा रख रहा है।

आज हम आपको ताहिर के कर्म कांड से लेकर पूरी कुंडली का विवरण देंगे

ताहिर हुसैन
ताहिर हुसैन
Google

मजदूर से बना करोड़पति

दिल्ली आने से पहले उसे खुद भी पता नहीं था कि वो इतनी ऊंचाइयों पर पहुंचेगा। 8वीं पास यूपी के अमारोह का रहने वाला ताहिर मजदूरी करने दिल्ली आया था। लेकिन कुछ समय बाद उसने अपने पूरे परिवार को यही सेटल कर दिया। कारोबार शुरू करने के बहाने उसने धीरे धीरे राजनीति में भी अपनी पहुंच बनानी चाही और अरविंद केजरीवाल से संपर्क बढ़ाया।

देखते ही देखते इसी रास्ते पर चलकर मात्र 18 साल में 18 करोड़ की प्रॉपर्टी का मालिक बन गया। हैरानी की बात तो ये है कि ताहिर व उसकी पत्नी के नाम 38 लाख की चल संपत्ति है। इसके अलावा 15 करोड़ रुपये की अचल संपत्ति।

ताहिर हुसैन
ताहिर हुसैन
Google

ताहिर का घर बना दंगे का हेडक्वार्टर

दिल्ली हिंसा के दौरान आपने भी वो बिल्डिंग जरूर देखी होगी जिसमें से पेट्रोल बम के अलावा पत्थर फेकें जा रहे थे। दरअसल वो घर ताहिर हुसैन का ही है। स्थानीय लोगों का कहना था कि इस घर में काफी पहले से इस दंगे की साजिश रची जा रही थी। लोगों ने ये भी बताया कि उस बिल्डिंग में करीब 200 से भी ज्यादा लोग मौजूद थे जो इस हिंसा को अंजाम दे रहे थें। चांदबाग में मौजूद ये बिल्डिंग ताहिर के पत्नी के नाम पर है।

लगे हैं ये गंभीर आरोप

जब से ताहिर पर ये गंभीर आरोप लगे हैं तभी से वो अंडरग्राउंड हो गया है। ताहिर हुसैन पर हिंसा में शहीद हुए IB ऑफिसर अंकीत शर्मा की हत्या का आरोप भी लगा है। इसके अलावा हिंसा की साजिश रचने का भी आरोप है। बता दें कि ताहिर आप पार्टी के नेता हैं जो इन आरोपों के लगने के बाद फिलहाल निलंबित हो गए हैं।

बताया जाता है को ताहिर का कपिल मिश्रा से भी घनिष्ट संबंध था, दिल्ली विधानसभा चुनाव के दौरान कपिल मिश्रा की ताहिर ने खूब मदद की थी। पर आज जब ताहिर इन आरोपों में घिर चुके हैं तो कपिल मिश्रा ने खुद इनपर सख्त करवाई करने की मांग कर दी है।

उदय बुलेटिन के साथ फेसबुक और ट्विटर जुड़ने के लिए यहाँ क्लिक करें।

उदय बुलेटिन
www.udaybulletin.com