उदय बुलेटिन
www.udaybulletin.com
Sabarimala temple
Sabarimala temple|ians
देश

सबरीमाला मंदिर खुलने पर हम भक्तों का साथ देंगे : भाजपा  

केरल की हालत आपातकाल के दिनों से बदतर हो गई है।

Ashutosh

Ashutosh

तिरुवनंतपुरम, 28 अक्टूबर । सुप्रीमकोर्ट का आदेश आने के बाद सबरीमाला मंदिर का मुद्दा धीरे धीरे राजनीत का विषय बनता जा रहा है इसमें बीजेपी भक्तो के साथ खड़ी है तो केरल की सरकार सुप्रीमकोर्ट के फैसले के पक्ष में खड़ी नजर आ रही है । भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की केरल ईकाई के अध्यक्ष पी. एस. श्रीधरन पिल्लई ने रविवार को कहा कि भाजपा सबरीमाला मंदिर में सभी महिलाओं के प्रवेश का विरोध कर रहे भक्तों का साथ देती रहेगी। पिल्लई ने सबरीमाला की विशिष्टता (10 से 50 आयु वर्ग की महिलाओं के प्रवेश को रोकने) को अक्षुण्ण रखने के लिए प्रदर्शनों की एक श्रृंखला की घोषणा की।

मंदिर पांच दिन की मासिक पूजा के बाद 22 अक्टूबर को बंद हो गया। यह अब पांच नवंबर को शाम 5 बजे खुलेगा और अगले दिन रात 10 बजे बंद हो जाएगा।

पिल्लई ने मीडिया से कहा, "हम मंदिर के पांच नवंबर को खुलने पर पूरी ताकत के साथ भक्तों की इच्छा का समर्थन करेंगे।"

उन्होंने कहा, "केरल की हालत आपातकाल के दिनों से बदतर हो गई है।"

उन्होंने कहा, "लोगों को मध्यरात्रि को गिरफ्तार किया जा रहा है क्योंकि वे शांतिपूर्ण तरीके से प्रदर्शन कर रहे हैं और भगवान अयप्पा के भक्तों के अधिकारों को लिए लड़ रहे हैं।"

सबरीमाला मंदिर में 10 से 50 वर्ष की महिलाओं को प्रवेश की अनुमति देने के शीर्ष अदालत के फैसले के खिलाफ प्रदर्शनों के लिए 26 अक्टूबर से अब तक करीब 3,345 प्रदर्शनकारियों को गिरफ्तार किया गया है जबकि राज्य भर के विभिन्न पुलिस थानों में 517 मामले दर्ज किए गए हैं। हालांकि, अधिकांश को जमानत पर छोड़ा जा चुका है।

पिल्लई ने कहा कि देश भर में बहुत से मंदिर भगवान अयप्पा को समर्पित हैं, लेकिन सबरीमाला मंदिर विशेष है।

उन्होंने कहा कि वह केरल पुलिस प्रमुख के कार्यालय के बाहर एक दिवसीय विरोध प्रदर्शन आयोजित करेंगे। कसरगोड में एक मंदिर से 8 नवंबर को रथ यात्रा शुरू होगी और पथनमथिट्टा 13 नवंबर को पहुंचेगी। पथनमथिट्टा में सबरीमाला मंदिर स्थित है।

--आईएएनएस