उदय बुलेटिन
www.udaybulletin.com
प्रधानमंत्री श्रम योगी मानधन योजना (PM-SYM)
प्रधानमंत्री श्रम योगी मानधन योजना (PM-SYM)|Google
देश

मानधन योजना का लक्ष्य हर हालत में पूरा किया जाना चाहिए : मंडलायुक्त गौरव दयाल

प्रधानमंत्री श्रम योगी मानधन योजना भारत सरकार द्वारा हाल के ही समय मे असंगठित क्षेत्र में कार्य करने वाले कामगारों को सुरक्षा देने के लिए है।

Shivjeet Tiwari

Shivjeet Tiwari

मंडलायुक्त गौरव दयाल ने बाँदा चित्रकूट धाम मंडल के परिक्षेत्र में आने वाले सभी जिलाधिकारियों को निर्देशित किया है कि प्रधानमंत्री श्रम योगी मानधन योजना के तहत 18 वर्ष से लेकर 40 वर्ष तक कि आयुवर्ग वाले कामगार जिनकी आय अधिकतम 15 हजार तक सीमित हो उन्हें इस योजना का लाभ दिलाने के लिए सरकारी तंत्र को अपनी पहल के अंतर्गत लाना चाहिए।

प्रशासन पूरा सहयोग उपलब्ध कराए :

गौरव दयाल ने अपने निर्देश में जिम्मेदार अधिकारियों से कहा कि ऐसे क्षेत्र में अधिकांश अल्प शिक्षित लोग जुड़े हुए है इसलिए आपका यह कर्तव्य बनता है कि उन्हें इस योजना का पूरा लाभ प्राप्त हो, ताकि श्रम योगी मानधन योजना (maan dhan yojna) के तहत गैर संगठित क्षेत्र के अंदर कार्य करने वाले कामगारों को अपनी अवस्था प्राप्त करने के बाद दूसरों के भरोसे न बैठना पड़े।

जनसुविधा केंद्र में होगा नामांकन :

आयुक्त गौरव दयाल ने बताया कि गैर संगठित क्षेत्र के कामगारों को श्रमयोगी मानधन योजना में पंजीयन (pmsym registration) कराने हेतु उन्हें ग्राहक सेवा केंद्र/ जनसुविधा केंद्र पर पहुँच कर पंजीकरण कराना होगा जिसमें आधार कार्ड, बैंक पासबुक, और मोबाइल नम्बर अनिवार्य होगा, तथा पंजीयन के बाद का कार्य संबंधित विभाग द्वारा बेहद सरलता से कराया जाएगा, इस योजना के बारे में बताते हुए आयुक्त गौरव दयाल ने बताया कि कामगारों को 60 वर्ष की आयु प्राप्त करते ही कामगारों को 3000 रुपये की मासिक पेंशन उपलब्ध होगी, इस योजना के अंतर्गत, रिक्शा चालक, घरेलू कामगार, मिड डे मील रसोइए, बढ़ई, मोची, नाई ,धोबी, और खेतिहर मजदूर शामिल रहेंगे।