Overloaded Truck Crushed a Girl in Banda
Overloaded Truck Crushed a Girl in Banda|Uday Bulletin 
देश

रेत खदान के ट्रक ने मासूम को रौंदा, मौके पर ही दर्दनाक मौत। 

अब इसे सरकार के नियमों की अनदेखी कहें या फिर सत्ता तक पहुँच, इनको रोकने के लिए कोई खड़ा नहीं हो सकता शायद यही कारण है कि ग्रामीण इलाकों के बीच रेत से भरे हुए भारी वाहन गुर्राते हुए मिल जाएंगे।

Shivjeet Tiwari

Shivjeet Tiwari

पैलानी क्षेत्र के गांव खप्टिहा कला गांव के खंड संख्या 62.63/1 में आवंटित रेत खदान में इस वक्त लखनऊ की जयशक्ति रियलकॉन प्राइवेट लिमिटेड को रेत खनन का पट्टा मिला हुआ है। इसी खदान में दिनांक 9 मार्च को ओवरलोड तेजरफ्तार ट्रक ने दश वर्ष से भी कम उम्र की बच्ची को कुचल दिया जिससे बालिका की मौके पर ही मौत हो गयी। गुस्साए ग्रामीणों ने ट्रक समेत खदान की सुरक्षा में लगे हुए निजी सुरक्षा गार्ड की झोपड़ियों को आग के हवाले कर दिया।

एनजीटी के नियम रखे गए ताक पर :

यहां आपको बताते चले कि समूचे बुंदेलखंड में इन दिनों सरकारी संस्थाओं और सुप्रीम कोर्ट के नियमों को ताक पर रख कर अवैध खनन जोरो पर है।पिछली सरकारों में जहां बाँदा की केन नदी पर मात्र दो दर्जन खदानों के द्वारा रेत निकासी की जाती थी लेकिन भाजपा सरकार ने नियमों की आड़ लेकर नदी के हर दश किलोमीटर पर खंड बनाकर नदी से रेत निकाला जा रहा है। नतीजन अकेले केन नदी पर ही 50 से ज्यादा खदाने बनाकर आवंटन किया गया है और इन खदानों पर भारी पोकलैंड मशीने हमेशा गरजती रहती है.

माफियाओं का है आतंक :

सरकार के नियमों की बात तो फिर भी अलग है लेकिन माफिया इन दिनों इतना ताकतवर है कि उसे लोगों की जान की भी परवाह नही है। इसीलिए ओवरलोड वाहन बिना किसी रुकावट के फर्राटा भरते हुए नजर आते है और रास्ते मे आने वाले छोटे वाहनों और पैदलों के लिए मौत का सबब बन जाते है। लोगों के अनुसार यह सब स्थानीय पुलिस की रजामंदी के बिना मुमकिन ही नही है। घटना के बाद लोगों मे भयानक रोष व्याप्त है और किसी बड़े आंदोलन की आशा की जा सकती है।

उदय बुलेटिन के साथ फेसबुक और ट्विटर जुड़ने के लिए यहाँ क्लिक करें।

उदय बुलेटिन
www.udaybulletin.com