बांदा में पत्रकार के ऊपर बालू माफिया का हमला, पुलिस मामले को दबाने में जुटी

बुंदेलखंड में रेत खनन माफिया इतने ताकतवर है कि खुद यूपी पुलिस उनकी खिदमत करती हुई नजर आती है, जनसरोकार के लिए असलियत सामने लाने पत्रकारों के ऊपर हो रहे हमले और पुलिस रिपोर्ट तक नहीं लिख रही।
बांदा में पत्रकार के ऊपर बालू माफिया का हमला, पुलिस मामले को दबाने में जुटी
Journalist Anshu Gupta Beaten and Robbed by sand Mafia in BandaUday Bulletin

अबैध खनन की खबर देने पर हुई लूटपाट और मारपीट:

दरअसल जसपुरा क्षेत्र के निवासी पत्रकार अंशू गुप्ता को 31 जुलाई को यह जानकारी मिली कि क्षेत्र में बरेहता से गौरी कलां की तरफ रेत लेकर दो ट्रेक्टर डंप की तरफ जा रहे हैं इस मामले में पत्रकार अंशू गुप्ता द्वारा जसपुरा थाना प्रभारी को फोन पर पूरी जानकारी से अवगत कराया गया और खुद अपने दूसरे साथी रवि तिवारी (अमर उजाला पत्रकार) के साथ मौके पर निकल गए साथ ही दोनों ट्रैक्टरों को रेत से भरे होने की सारी घटना को अपने कैमरों में कैद कर लिया और बिना कुछ कहे ही वापस चले आये।

लेकिन रास्ते मे ही गौरी कला के रपटे के ऊपर बरहेटा निवासी दबंग सोनू सिंह कछवाह पुत्र बच्छराज सिंह और जयप्रकाश पुत्र स्वर्गीय कल्लू गुप्ता दो अन्य अज्ञात व्यक्तियों सहित मौके पर पहुंचे और गाड़ी को रुकवाकर मारपीट की और पत्रकारिता का नशा उतारने की बात कही। पीड़ित पत्रकार अंशू गुप्ता ने पुलिस को दी हुई शिकायत में यह बताया कि इन्हीं लोगो द्वारा पीड़ित का कैमरा, मोबाइल, सोने की चैन, इत्यादि छीन लिया गया। जब पीड़ित अंशू गुप्ता के सहयोगी रवि तिवारी ने इस बाबत विरोध दर्ज कराया तो दबंगो ने रवि के ऊपर तमंचा तान कर शांत रहने की हिदायत दी।

पीड़ित ने पुलिस में तहरीर देकर समान वापस दिलाने और आरोपितों को दंड दिलाने की बात कही है

अंशू गुप्ता की शिकायत
अंशू गुप्ता की शिकायतअंशू गुप्ता

पुलिस कर रही हीलाहवाली:

अगर इस मामले में पुलिस की स्थिति को देखें तो स्थानीय पुलिस पत्रकार पर रेत माफियाओं का दबाव डालकर रिपोर्ट लिखने में आना कानी कर रही है। खबर लिखने तक पुलिस ने पीड़ित पत्रकार अंशू गुप्ता की न तो मेडिकल जांच कराई है और न ही अभी तक आरोपियों को पकड़ने की कोशिश की है।

दोनों आरोपी रेत खनन में संलिप्त है:

अगर सूत्रों की माने तो दोनो आरोपी व्यक्ति रेत खनन में भलीभांति संलिप्त है और इस बारे में स्थानीय पुलिस को भी पूरी जानकारी है लेकिन इंट्री के खेल की वजह से पुलिस कि शह पर लगातार क्षेत्र में खनन को बढ़ावा दिया जा रहा है।

हालांकि सदर सीओ ने यह जानकारी दी कि मामले में मुकदमा पंजीकृत कर लिया गया है लेकिन देखना यह है कि पुलिस इस मामले में कैसे कदम उठाती है।

⚡️ उदय बुलेटिन को गूगल न्यूज़, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें। आपको यह न्यूज़ कैसी लगी कमेंट बॉक्स में अपनी राय दें।

No stories found.
उदय बुलेटिन
www.udaybulletin.com