jaunpur dalit basti news
jaunpur dalit basti news|Social media
देश

आम तोड़ने को लेकर बढ़ा विवाद, समुदाय विशेष ने दलितों के घर जलाए

आम तोड़ने पर घर और जानवर जला दिए, दलित परिवार को जलाकर मारने की कोशिश

Shivjeet Tiwari

Shivjeet Tiwari

भले की आपको आम तोड़ने का विवाद बेहद हल्का या मजाकिया लगे लेकिन समुदायों में घृणा का स्तर इतना बढ़ चुका है कि लोग दूसरे पक्ष के घरों को आग के हवाले करने में भी नहीं हिचक रहे है। ताजा मामला उत्तर प्रदेश के जौनपुर से सामने आया है।

मामूली विवाद और सांप्रदायिक उन्माद:

जानकारी के अनुसार यह मामला आम तोड़ने को लेकर उठा और आगे बढ़कर यह मामला साम्प्रदायिक लपटों में घिर गया। इस मामले ने कुछ ऐसा तूल पकड़ा कि दलितों के मकान और दुधारू पशु आग की भेंट चढ़ गए। जौनपुर के भदेठी में यह मामला बीते दिन हुआ इस मामले में उत्तर प्रदेश सरकार ने सख्त रवैया अपनाते हुए सपा नेता जावेद सिद्दीकी समेत करीब 35 लोगों पर नामजद रिपोर्ट दर्ज करके गिरिफ्तार कर लिया है। सरकार ने पीड़ित दलितों के लिए तत्काल रूप से आर्थिक मदद भी उपलब्ध कराई है साथ ही दलितों को यह विश्वास दिलाया है कि किसी व्यक्ति के साथ अन्याय नहीं होने दिया जाएगा। इस मामले में किसी भी आरोपी को बख्शा नहीं जाएगा।

आरोपियों पर गैंगेस्टर और एनएसए:

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने इस मामले पर सख्ती बरतते हुए यह आदेश जारी किए है कि आरोपियों को किसी भी हालत में बख्शा नहीं जाएगा और मामले में वांछित अभियुक्तों पर एनएसए और गैंगेस्टर एक्ट के तहत कार्यवाही की जाएगी। पीड़ितों को राहत पहुँचाने के लिहाज से सरकार ने फौरी तौर पर करीब 10.26 लाख की सहायता राशि निर्गत की है इसके साथ ही घर जल जाने की स्थिति में प्रदेश सरकार उन्हें मुख्यमंत्री आवास योजना के तहत मकान बनाने के लिए राशि उपलब्ध कराई जाएगी।

स्थानीय लोगों ने बताये हालात:

मौके पर भुक्तभोगी लोगों ने बताया कि एक मामूली से विवाद को दूसरे समुदाय ने धार्मिक रंग देकर हमला किया जो समुदाय खुद को माइनॉरिटी बनाकर पेश करता है वह हर वक्त आग लगाने को तैयार है। प्रत्यक्षदर्शियों ने बताया कि देर रात आरोपी समुदाय के लोग महिलाओं और बच्चों के साथ बस्ती में घुसे और उन्हें चारो तरफ से जलाकर मार डालने की तैयारी थी। वो तो नसीब अच्छा था तो हम लोग बच गए, लोगों ने दलितों की राजनीति करने वाले लोगों पर भी आरोप लगाए। स्थानीय लोगों के अनुसार ये बड़बोले आजकल कहाँ गायब है ?

उदय बुलेटिन के साथ फेसबुक और ट्विटर जुड़ने के लिए यहाँ क्लिक करें।

उदय बुलेटिन
www.udaybulletin.com