बाँदा में थम नहीं रहा रफ्तार का कहर, ट्रक ने स्कूटी सवारों को रौंदा, मौके पर मौत

तेज रफ्तार ट्रकों के लिए बदनाम बाँदा में आये दिन हादसों की संख्या बढ़ रही है, परिवहन विभाग समेत पुलिस विभाग इस तरह की घटनाओं में अंकुश लगाने में नाकाम साबित हुआ है।
बाँदा में थम नहीं रहा रफ्तार का कहर, ट्रक ने स्कूटी सवारों को रौंदा, मौके पर मौत
Chilla banda road accidentUday Bulletin

ताजा मामला बाँदा जिले के चिल्ला से जुड़ा हुआ है जहां पर तेज रफ्तार ट्रक ने स्कूटी सवार दो लोगों को कुचल दिया है जिसकी वजह दोनो लोगों की मौके पर ही मौत हो गयी।

तेज रफ्तार ने ढाया कहर:

ज्ञात हो कि दिन के समय बाँदा की तरफ से आते तेज रफ्तार ट्रक ने एक स्कूटी को अपनी चपेट में ले लिया जिसके बाद स्कूटी में आग लगने की वजह से दोनो लोग मौके पर ही जल कर खाक हो गए और ट्रक चालक हादसे को अंजाम देकर मौके से फरार हो गया। राहगीरों ने स्थानीय चिल्ला थाने को सूचना देकर घटना के बारे में अवगत कराया उसके बाद पुलिस ने मौके पर पहुंचकर शवों को निकाल कर कानूनी कार्यवाही शुरू की।

चैतू डेरा का है मामला:

यह दुर्घटना जसपुरा कस्बे के अंतर्गत चैतू डेरा के पास में हुई जहाँ पर स्कूटी सवार गोपाल पुत्र कन्हैया उम्र लगभग 65 वर्ष और रामचरण पुत्र गजराज सिंह दोनो निवासी ग्राम लौमर इस घटना में मारे गए हैं। दोनो व्यक्ति जसपुरा से खरीददारी करके गांव लौमर लौट रहे थे लेकिन तभी सामने से आते तेज रफ्तार ट्रक ने उन्हें अपनी चपेट में ले लिया जिसकी वजह से दोनो व्यक्ति ट्रक के नीचे आ गए और टक्कर की वजह से दोनो व्यक्ति जल गए।

दुर्घटना स्थल के पास ही स्कूटी चालक का हेलमेट जमीन पर गिरा हुआ पाया गया है इस लिहाज से यह माना जायेगा कि चालक ने हेलमेट भी पहन रखा था लेकिन भारी भरकम ट्रक के सामने भला हेलमेट क्या कर सकता है।

पुलिस और परिवहन विभाग पर उठते सवाल :

अगर आप बाइक चालक है और बिना हेलमेट गाड़ी चलाते हुए पाये जाते है तो यक़ीनन आपका भारी भरकम चालान होगा। लेकिन मौत का सामान बने हुए ट्रकों पर पुलिस के रहमो करम का लगातार आरोप लगता रहा है। चूंकि जसपुरा जैसा खनिज क्षेत्र रेत और मिट्टी खनन के लिए मुफीद जगह मानी जाती है जहां पर स्थानीय पुलिस की सहमति से अवैध खनन होता रहता है लेकिन पुलिस और आरटीओ इस मामले में कोई कार्यवाही करते हुए नहीं नजर आते और आम राहगीरों को अपनी जान से हाँथ धोना पड़ता है।

⚡️ उदय बुलेटिन को गूगल न्यूज़, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें। आपको यह न्यूज़ कैसी लगी कमेंट बॉक्स में अपनी राय दें।

Related Stories

उदय बुलेटिन
www.udaybulletin.com