Raj thackeray angry on tablighi jamaat
Raj thackeray angry on tablighi jamaat|Google
देश

राज ठाकरे ने दिखाया अपना गुस्सा, बोले जमातियों को गोली मार दो 

बकौल राज ठाकरे जो कोरोना वारियर्स पर थूक रहे है उनका इलाज करने का कोई फायदा नहीं है, इन्हें तो सीधे गोली मार देनी चाहिए 

Shivjeet Tiwari

Shivjeet Tiwari

राज का भड़का गुस्सा :

मनसे प्रमुख राज ठाकरे कोरोना संक्रमण में तबलीगी जमात को लेकर बेहद खफा है इसी गुस्से में उन्होंने अपने धैर्य की सीमा को तोड़ते हुए बिगड़े बोल निकाल दिए। राज ठाकरे ने ने दिल्ली की निजामुद्दीन मस्जिद के मरकज में शामिल हुए जामाती लोगों पर बड़ा निशाना लगाया है। बकौल राज ठाकरे.....

जो लोग खुद संक्रमित होकर दूसरों को संक्रमित करने की मंशा से डॉक्टरों और पुलिसकर्मियों पर थूक रहे है उनका इलाज करके कोई फायदा नहीं है, ये न सिर्फ देश की सुरक्षा के लिए खतरा है बल्कि ये समाज मे जहर घोलने का काम कर रहे है, इन्हें तत्काल गोली मार देनी चाहिये। 

राज ठाकरे यहीं नहीं रुके बल्कि उन्होंने थूक-थूक कर कोरोना फैलाने वालों के लिए और एक बात कही है जिसमें उन्होंने चेतावनी भरे लहजे में कहा कि "ये सब बदतमीजी काबिले बर्दाश्त नही है। उन्हें याद रहना चाहिए कि कोरोना संकट के बाद भी हम रहेंगे।

बढ़ रही है जमातियों की हरकतें :

ऐसा नहीं हैं कि थूकने और इलाज में सहयोग न करने की बातें बस एक जगह ही सीमित है बल्कि गाजियाबाद और इंदौर के बाद अब कानपुर में भी एक मामला सामने आया है जहाँ के गणेश शंकर विद्यार्थी मेडिकल कालेज की प्राचार्य महोदया ने कानपुर के तबलीगी जमात के कोरोना संक्रमित और संदिग्धों के ऊपर गंभीर आरोप लगाए है। प्राचार्य डॉक्टर आरती लालचंदानी ने मीडिया के बंधुओ से बात करते हुए बताया कि तबलीगी जमात के कोरोना संदिग्ध और संक्रमित लोग इलाज कराने में आनाकानी कर रहे है और अपने थूक को अस्पताल की रेलिंग, दीवारों और सीढ़ियों इत्यादि में लगा रहे है ताकि यह संक्रमण दूसरे अन्य लोगों मे फैले।

सनद रहे कि दिल्ली की तबलीगी जमात के लोगों ने लगभग रुके हुए कोरोना संक्रमण को फैलाने में अहम रोल अदा किया है और उसके बाद ये मेडिकल और पुलिस स्टाफ से हिंसा और गिरी हुई हरकते करने पर आमादा है, इन घटनाओं को लेकर समाज मे तनाव पैदा हो रहा है।

उदय बुलेटिन के साथ फेसबुक और ट्विटर जुड़ने के लिए यहाँ क्लिक करें।

उदय बुलेटिन
www.udaybulletin.com