उदय बुलेटिन
www.udaybulletin.com
कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी
कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी |Google
देश

राफेल मामला: राहुल ने वीडियो शेयर कर फिर साधा केंद्र पर निशाना कहा, 2 घंटे बोलकर भी रक्षा मंत्री नहीं दें पाईं दो सवालों का जवाब

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने राफेल मामले को प्रधानमंत्री मोदी पर एक बार फिर निशाना साधा और कहा कि रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण संसद में दो घंटे तक बोलीं, लेकिन दो आसान सवालों का जवाब नहीं दिया

AKANKSHA MISHRA

AKANKSHA MISHRA

नई दिल्ली: संसद में राफेल मुद्दे (Rafale Case Controversy) पर बहस के बाद कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी (rahul Gandhi) ने राफेल मामले (Rafale Case Controversy) को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Modi) पर एक बार फिर निशाना साधा और कहा कि रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण (Defence Minister Nirmala Sitharaman) संसद में दो घंटे तक बोलीं लेकिन दो आसान सवालों का जवाब नहीं दिया।

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी (Rahul Gandi) ने संसद की करवाई के बाद एक छोटा वीडियो ट्विटर पर शेयर करते हुए कहा, 'रक्षा मंत्री संसद में दो घंटे तक बोलीं लेकिन मेरे दो आसान सवालों का जवाब नहीं दे सकीं।' उन्होंने कहा, 'आप इस वीडियो को देखिए और अधिक से अधिक शेयर करिए। ये सवाल हर भारतीय को प्रधानमंत्री मोदी और उनके मंत्रियों से पूछने दीजिए।' उन्होंने सवाल किया, 'HAL से ठेका छीनकर अनिल अंबानी की कंपनी को किसने दिया? क्या नए सौदे को लेकर रक्षा मंत्रालय (Defence Minister Nirmala Sitharaman) के अधिकारियों को आपत्ति थी?"

साथ ही राहुल गांधी ने यह भी कहा था कि 2019 में उनकी पार्टी की सरकार बनने पर राफेल मामले की आपराधिक जांच होगी और जिम्मेदार लोगों को सजा दी जाएगी।

राहुल गांधी ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा रक्षा मंत्री (Defence Minister Nirmala Sitharaman) ने संसद में अपने भाषण में माना कि प्रधानमंत्री (PM Modi) ने बाइपास सर्जरी करके 36 लड़ाकू विमान फ्रांस की कंपनी दसॉ से खरीदने के लिए एक नया सौदा किया। पूर्व सौदा 126 विमानों की खरीद का था। जब मैंने पूछा कि बाइपास सर्जरी कब हुई और क्या वायुसेना के अधिकारियों ने इसपर आपत्ति जाहिर की। यह आसान सवाल था लेकिन वह सवाल को टाल गईं और कोई हां या ना में जवाब दिए बगैर चली गईं।"

राहुल गांधी ने कहा रक्षा मंत्री ने ढाई घंटे के भाषण में मेरे एक भी सवाल का जवाब नहीं दिया। मेरा सवाल था कि वायुसेना आठ साल से अधिक समय से जिस सौदे पर बातचीत कर रही थी, उसे मोदी ने दो मिनट में बदल दिया।" उन्होंने कहा, "मैंने उनसे सिर्फ इतना पूछा कि क्या उन्होंने आपत्ति जताई। उनको उत्तर हां या ना में देना था, मगर वह भाग गईं।"