INS Kolkata Welcome Rafale
INS Kolkata Welcome Rafale |Google Image
देश

राफेल जैसे ही भारतीय सीमा में आया तो आईएनएस ने करारा स्वागत किया तो राफेल ने भी जबरजस्त जवाब दिया

जब दो ताकतवर मिलते है तो कुछ ऐसी ही बातें होती है, एक तरफ था समंदर का राजा तो दूसरी तरफ आसमान में शिकार करने में माहिर राफेल, बातें सुनकर सीना चौड़ा हो गया।

Shivjeet Tiwari

Shivjeet Tiwari

पांच राफेल विमानों का एक जत्था जैसे ही भारतीय वायु सीमा में प्रविष्ट हुआ तो सबसे पहले भारतीय जलसीमा से एक धुरंधर वीर कोलकाता आईएनएस ने राफेल का स्वागत किया। इस दरम्यान आईएनएस कोलकाता और राफेल के बीच दिलचस्प संवाद हुआ जिसे सुनकर आपका सीना गर्व से चौड़ा हो जाएगा।

आईएनएस कोलकाता: डेल्टा 63 एरो लीडर फ्लाइंग राफेल, आपका भारतीय समुद्र की सीमा में स्वागत है।

राफेल: हम आश्वस्त है कि भारतीय युद्धपोत समुद्र की रखवाली में है।

आईएनएस कोलकाता: राफेल आप आकाश की ऊंचाइयों को छुएं, आपकी लैंडिंग सफल हो।

राफेल: आपके लिए हवाएं अनुकूल हो, हैप्पी हंटिंग।

भारतीय पायलट राफेल लेकर आये:

यहां आपको बताते चले कि मंगलवार के दिन ही भारतीय पायलटों ने राफेल दस्ते के साथ फ्रांस से उड़ान भरी और अपने पहले विश्राम स्थल संयुक्त अरब अमीरात के फ्रांस एयरबेस में हाल्टिंग की जहाँ पर विमानों को रिफ्यूल किया गया और समस्त तकनीकी जांचों के बाद विमानों ने दोबारा भारत के लिए उड़ान भरी।

ज्ञात हो कि भारतीय पायलटों की एक टीम पिछले एक साल से फ्रांस की वायुसेना के साथ अटैच होकर राफेल के बारे में सभी प्रकार के तकनीकी ज्ञान ले रही थी। जिसके बाद उड़ाने संबंधित सभी विधाओं में पारंगत होकर सभी विमान अब भारत की सरजमीं आ गए हैं।

इन विमानों को भारत मे पहली लैंडिंग कराने का अवसर अम्बाला एयरपोर्ट को मिला जहाँ पर भारतीय वायुसेना के एयर चीफ मार्शल आर के एस भदौरिया ने इन लड़ाकू विमानों का स्वागत किया।

उदय बुलेटिन के साथ फेसबुक और ट्विटर जुड़ने के लिए यहाँ क्लिक करें।

उदय बुलेटिन
www.udaybulletin.com