independence day celebration
independence day celebration|Google Image
देश

स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर प्रधानमंत्री का भाषण इन बिंदुओं पर केंद्रित रहा

इस बार स्वतंत्रता दिवस कोरोना की वजह से उतना रोचक तो नहीं रहा जितनी उम्मीद थी, पीएम ने ध्वजारोहण समेत सभी औपचारिकताएं पूरी की और उनका भाषण लोगों की नजर में रहा, आइये देखते है उनके भाषण का सार

Shivjeet Tiwari

Shivjeet Tiwari

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 74 वे स्वतंत्रता दिवस पर लाल किले पर जाकर तिरंगा फहराया और अपने भाषण में वर्तमान समय की उपलब्धियां और समस्याओं की ओर इशारा करते हुए अपना वक्तव्य जारी रखा, इस बार प्रधानमंत्री ने देश मे चल रही कोरोना और उससे जनित समस्याओं का उल्लेखन किया साथ ही उससे उत्पन्न समस्याओं से निबटने वाले वीरो के बारे में जानाकरी उपलब्ध कराई।

कोरोना वीर बने उदाहरण:

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने लाल किले की प्राचीर से कोरोना काल में लोगों की जिंदगी बचाने वाले डॉक्टर, पैरामेडिकल स्टाफ, एम्बूलेंस और अन्य जुड़े हुए लोग जैसे पुलिस बल की सराहना की। प्रधानमंत्री ने कहा कि इनका कार्य भारत हमेशा स्मरण रखेगा।

भारत ने खुद का वजूद बनाये रखा:

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भारत के व्यापक इतिहास और दासता की विभीषका के बाद भारत की आत्मा को जिंदा रखने की बात का उल्लेख किया तथा भारत की गैर विस्तारवादी नीति का उल्लेख किया। प्रधानमंत्री ने बताया कि भारत ने कब्जे को लेकर कभी किसी पर युद्ध नहीं थोपे। साथ ही भारत की स्वतंत्रता के लिए जिन वीरों ने अपनी आहुतियां दी उनका उल्लेख किया।

आत्मनिर्भर भारत बना नया मिशन:

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने नए भारत की नई सोच का विमोचन किया, प्रधानमंत्री ने कहा कि भारत कब तक अपने कच्चे माल का फिनिश रूप खरीदने के लिए आतुर रहेगा। अब वक्त है जब भारत खुद इसमे अपनी दक्षता दिखाए, साथ ही प्रधानमंत्री ने यह कहा कि आत्मनिर्भर का मतलब यह नही है कि हमे सिर्फ आयात कम करना है बल्कि हमे अपनी स्किल डेवलोपमेन्ट, रचनात्मकता को उभारकर बढ़ाना है। इसी संदर्भ में प्रधानमंत्री ने देश मे बन रहे एन 95 मास्क और पीपीई किट का उल्लेख भी किया। जिसमे यह बताया कि जो भारत इन वस्तुओं के लिए दूसरे देशों पर निर्भर था अब वह अपनी जरूरतें पूरी करने के अलावा विश्व को उपलब्ध करा रहा है।

किसानों को डायरेक्ट बेनिफिट के माध्यम से मिलने वाले लाभ और जनधन के माध्यम से देश के गरीब लोगों को सीधे लाभ मिलने का विवरण दिया गया, साथ ही एक देश एक टैक्स जैसी व्यवस्था का उल्लेख किया गया।

दुनिया का भारत की तरफ आकर्षण:

प्रधानमंत्री ने भारत की छवि को विदेशों में चमकने की बात कही और बताया कि अब दुनिया भारत को एक बड़े उत्पादन हब की तरह देख रही है जिस वजह से सैकड़ों कंपनियां दूसरे देशों से भारत के लिए रुख कर रही है, जिसमे एप्पल, सैमसंग और अन्य उत्पादक कंपनियां शामिल है।

प्रधानमंत्री ने स्वतंत्रता दिवस के दिन एक नए मिशन नेशनल डिजिटल हेल्थ मिशन की शुरुआत की, जिसमे देश के हर मरीज का रिकार्ड डिजिटली सुरक्षित रखा जाएगा जिसमे बीमारी जांच, इलाज, दवा इत्यादि के बारे मे हर एक जानकारी सुरक्षित रहेगी जिन्हें कहीं से भी एक्सेस किया जा सकेगा

उदय बुलेटिन के साथ फेसबुक और ट्विटर जुड़ने के लिए यहाँ क्लिक करें।

उदय बुलेटिन
www.udaybulletin.com