Overspeeding and Overloading 
Overspeeding and Overloading |Uday Bulletin
देश

गिट्टी ले जाते हुए ट्रैक्टर बन रहे आम राहगीरों के काल, स्थानीय पुलिस रिश्वत लेकर मस्त। 

जिस पुलिस की जिम्मेदारी आम नागरिक को सुरक्षा मुहैया कराना होता है वही पुलिस थाना आजकल लोगों की मौत का सौदागर बनी हुई है, लोगों की मौत की कीमत माफियाओं से वसूल रहा है। 

Shivjeet Tiwari

Shivjeet Tiwari

प्रदेश बॉर्डर की वजह से होती है खनिज की तस्करी:

दरअसल मटौन्ध थाना क्षेत्र के अंतर्गत आने वाले गांव परमपुरवा, लोहरा इत्यादि गांव मध्यप्रदेश की सीमा पर स्थित है जहां से मध्यप्रदेश से आने वाले खनिज जैसे रेत, और गिट्टी को तस्करी करके पर मटौन्ध क्षेत्र के गांवों समेत सभी जगहों पर बेचा जाता है। इन सभी मामलों में स्थानीय पुलिस की शह पर ट्रैक्टरों द्वारा लाया जाता है, जिसकी वजह से तेज रफ्तार ट्रेक्टर लोगों की मौत का सामान बन रहे है।

थाना है दलालों का अड्डा :

सूत्रों की माने तो इन दिनों मटौन्ध थाना पुलिस की ईमानदारी से नहीं बल्कि दलालों की दलाली से जाना जा रहा है, लगभग हर मामले में दलालों की पहुँच इस कदर है कि किसी भी काम को कराने के लिए दलालों से मिलना पड़ता है। अवैध खनिज लाने, और रेलवे को ट्रैक्टरों द्वारा गिट्टी मुहैया कराने के लिए स्थानीय पुलिस को पैसा देकर निकाला जा रहा है जिसकी वजह से अन्य विभागों की नजर बचाने के लिए पुलिस ट्रैक्टर चालको को तेज रफ्तार ट्रैक्टर चलाने के लिए कहती है जिसकी वजह से दुर्घटनाओं में बढ़ोतरी हुई है।

पिछले दिन हुई थी मौत :

सनद रहे पिछले दिन ही आटा चक्की से आटा ले जाते हुए किसान को ट्रेक्टर चालक ने कुचल दिया था।जिसकी वजह से किसान की मौके पर मौत हो गयी थी, इसके बाद से भी वाहनों की रफ्तार में कोई कमी नही आई है, बल्कि पुलिस की शह के बाद वाहनो की रफ्तार में तेजी आई है।

उदय बुलेटिन के साथ फेसबुक और ट्विटर जुड़ने के लिए यहाँ क्लिक करें।

उदय बुलेटिन
www.udaybulletin.com