Uday Bulletin
www.udaybulletin.com
बीजेपी नेता मनोहर पर्रिकर
बीजेपी नेता मनोहर पर्रिकर
देश

गोवा के मुख्यमंत्री मनोहर पर्रिकर के इस्तीफे के मांग से भड़के मंत्री, कहा पर्रिकर को हटाने का तो सवाल ही नहीं

पिछले नौ महीने से मुख्यमंत्री पर्रिकर बीमार हैं और सरकार का काम ठप पड़ा है। 48 घंटे का अल्टीमेटम देते हुए मुख्यमंत्री के इस्तीफे के मांग की 

AKANKSHA MISHRA

AKANKSHA MISHRA

पणजी: गोवा के मुख्यमंत्री और बीजेपी नेता मनोहर पर्रिकर अग्न्याशय की बीमारी से पीडि़त हैं। पिछले कई ,महीनों से उनका ईलाज दिल्ली के AIMS चल रहा है। इसी बीच उनके मुख्यमंत्री पद से इस्तीफे की मांग उठ रही है। प्रदर्शनकारियों का नेतृत्व कर रहे सामाजिक कार्यकर्ता एरीस रोड्रिग्स ने शुक्रवार को कहा, पिछले नौ महीने से मुख्यमंत्री पर्रिकर बीमार हैं और सरकार का काम ठप पड़ा है। उन्होंने 48 घंटे का अल्टीमेटम देते हुए मुख्यमंत्री के इस्तीफे के मांग की थी।

मुख्यमंत्री का पक्ष लेते हुए गोवा फॉरवर्ड पार्टी के अध्यक्ष विजय सरदेसाई ने शुक्रवार को कहा कि बीमार चल रहे गोवा के मुख्यमंत्री मनोहर पर्रिकर की जगह किसी और को इस पद पर लाने का कोई सवाल ही नहीं है। पर्रिकर मंत्रिमंडल में सरदेसाई कृषि मंत्री हैं। सरदेसाई ने बताया कि वह 28 नवंबर को पर्रिकर से मिले थे।

सरदेसाई ने कहा,"आईएफएफआई (भारत का अंतर्राष्ट्रीय फिल्म समारोह) के समापन समारोह (28 नवंबर को) से वापस आते समय मैंने मुख्यमंत्री से मुलाकात की थी। वह ठीक हैं। उन्हें बदलने का सवाल कहां है?"

सत्तारूढ़ भाजपा पहले ही कह चुकी है कि मुख्यमंत्री पर्रिकर शासन के मामलों को देख कर रहे हैं, भले ही उनका इलाज चल रहा है। राज्य के विपक्षी दल और कभी-कभी राज्य सरकार के सहयोगियों ने भी यह आरोप लगाया है कि स्वास्थ्य कारणों से उनकी अनुपस्थिति की वजह से प्रशासन में एक तरह का ठहराव आ गया है।

आपको बता दें कि, अग्न्याशय की बीमारी से पीडि़त पर्रिकर नयी दिल्ली में ऑल इंडिया इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंसेज (एम्स) अस्पताल से इलाज कराने के बाद 14 अक्टूबर को राज्य वापस लौट आये थे। तब से वह अपने निवास पर स्वास्थ्य लाभ ले रहे हैं।