उदय बुलेटिन
www.udaybulletin.com
मायावती पर टिप्पणी के लिए भाजपा नेता साधना को नोटिस  
मायावती पर टिप्पणी के लिए भाजपा नेता साधना को नोटिस  |google
देश

मायावती पर ‘अभद्र’ टिप्पणी करने वाली BJP विधायक साधना सिंह को महिला आयोग ने भेजा नोटिस

भाजपा विधायक साधना सिंह ने बसपा सुप्रीमो मायावती की तुलना कथित रूप से किन्नरों से करते हुए उन पर आपत्तिजनक टिप्पणी की थी,जिसके बाद महिला आयोग ने उन्हें नोटिस जारी किया है।

AKANKSHA MISHRA

AKANKSHA MISHRA

नई दिल्ली: राष्ट्रीय महिला आयोग (एनसीडब्ल्यू) (National Commission for Women) ने सोमवार को बहुजन समाज पार्टी (बसपा) प्रमुख मायावती (Mayawati) के खिलाफ अशोभनीय टिप्पणी करने के लिए भारतीय जनता पार्टी की विधायक साधना सिंह (BJP MLA Sadhna Singh) को नोटिस भेजकर जवाब तलब किया। उत्तर प्रदेश के मुगलसराय की विधायक साधना ने शनिवार को एक रैली में मायावती (Mayawati) को 'एक ट्रांसजेंडर से खराब' बताया था और एक समय चिरविरोधी रहे समाजवादी पार्टी से गठबंधन करने के लिए अवसरवादी कहा था।

आयोग ने कहा कि साधना सिंह (BJP MLA Sadhna Singh) की टिप्पणी 'बेहद आपत्तिजनक, अनैतिक है और महिलाओं की गरिमा व सम्मान के प्रति अनादर दिखाता है।' आयोग ने इसके साथ ही जिम्मेदार पद पर बैठे लोगों के ऐसे गैरजिम्मेदाराना विचार की निंदा की। आयोग ने साधना से इस मामले पर संतोषजनक जवाब देने को कहा है, लेकिन इसके लिए कोई विशेष तारीख का जिक्र नहीं किया है।

एनसीडब्ल्यू (National Commission for Women) की कार्रवाई से एक दिन पहले साधना ने अपनी बदजुबानी के लिए माफी मांगी थी और कहा था कि किसी को अपमानित करने का उनका इरादा नहीं था।

क्या कहा था साधना सिंह ने

साधना सिंह (BJP MLA Sadhna Singh) ने मायावती (Mayawati) पर हमला करते हुए कहा, "हमको तो उत्तर प्रदेश की पूर्व मुख्यमंत्री ना तो महिला लगती हैं और ना ही पुरुष। इनको तो अपना सम्मान ही समझ में नहीं आता। जिस महिला का इतना बड़ा चीरहरण हुआ लेकिन कुर्सी पाने के लिए उसने अपने सारे सम्मान को बेच दिया। ऐसी महिला मायावती (Mayawati) का हम इस कार्यक्रम के माध्यम से तिरस्कार करते हैं।" उन्होंने आरोप लगाया, "वह महिला नारी जात पर कलंक हैं । जिस महिला की आबरू को भाजपा के नेताओं ने लुटते-लुटते बचाया उसी ने सुख-सुविधा के लिए अपमान को पी लिया। ऐसी महिला तो किन्नर से भी ज्यादा बदतर है। वह ना नर है, ना महिला है, उसकी किस श्रेणी में गिनती करनी है।"

साधना सिंह के बहाने अखिलेश यादव ने किया प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी पर हमला

भाजपा विधायक साधना सिंह (BJP MLA Sadhna Singh) द्वारा गत शनिवार को बसपा प्रमुख मायावती (Mayawati) के प्रति अभद्र टिप्पणी किये जाने का जिक्र करते हुए अखिलेश ने कहा कि भाजपा नेताओं की यह भाषा उनकी हताशा का नतीजा है। चूंकि भाजपा ने अपने शासनकाल में कोई काम नहीं किया है, तो उसके नेता काम की बात कैसे करेंगे। अभी चुनाव आ रहा है तो और भी बातें होंगी। उन्होंने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी पर कटाक्ष करते हुए कहा कि सिर्फ नीचे ही नहीं बल्कि सबसे ऊंची कुर्सी पर बैठे व्यक्ति की भी भाषा ऐसी ही है।

आपको बता दें कि, महिला आयोग (National Commission for Women) ने कहा कि भाजपा (BJP) विधायक नोटिस मिलने के बाद अपने कथित बयान के संदर्भ में आयोग को संतोषजनक स्पष्टीकरण दें। गौरतलब है कि उत्तर प्रदेश में मुगलसराय क्षेत्र से भाजपा विधायक साधना सिंह (BJP MLA Sadhna Singh) ने चंदौली जिले के करणपुरा गांव में शनिवार को आयोजित किसान कुंभ कार्यक्रम में मायावती को लेकर आपत्तिजनक टिप्पणी की थी।

आईएएनएस