meerut love jihad case
meerut love jihad case|Google Image
देश

मेरठ बहुचर्चित लव जेहाद कांड में मुख्य आरोपी के साले और पत्नी ने किया आत्मसमर्पण

कशिश और प्रिया की हत्या में शमशाद के साथ आयशा और दिलावर ने भी हत्या में अहम भूमिका निभाई थी।

Shivjeet Tiwari

Shivjeet Tiwari

मेरठ में हुए चर्चित लव जेहाद और उसके बाद कि गयी हत्या में दो अन्य आरोपियों में मुख्य आरोपी की पत्नी और साले ने बीते दिन अदालत में आत्मसमर्पण कर दिया, ज्ञात हो कि इन दोनों ने हत्या में बहुत बड़ी भूमिका निभाई थी।

पत्नी और साले ने अदालत में किया आत्मसमर्पण:

बीते दिन लगातार पुलिस की दबिश और खोजबीन से ख़ौफ़ खाकर मुख्य आरोपी शमशाद की पहली पत्नी आयशा और साले दिलावर पुत्र मोहम्मद वासिल ने मेरठ परतापुर के मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट के सामने आत्मसमर्पण कर दिया। ज्ञात हो कि पुलिस की खोजबीन और मुख्य आरोपी शमसाद के बयान के बाद यह सच सामने आया था कि इन दोनों लोगों ने प्रिया और उसकी बेटी कशिश की हत्या के बाद राज को हमेशा के लिए राज रखने में मुख्य आरोपी की मदद की थी। इस मामले में दिलावर ने प्रिया और कशिश के लिए कब्र खोदी थी साथ ही आयशा ने हर संभव राज छिपाने और शवों को कब्र में रखवाने में शमसाद की मदद की थी।

जाल बुनकर प्रिया को फंसाया गया था:

ज्ञात हो कि बीते 25 जुलाई को मृतक प्रिया की सहेली चंचल की खोजबीन और पैरवी के बाद इस बड़े कांड का खुलासा हुआ था इस मामले में मुख्य हत्यारोपी शमसाद ने पहले फेसबुक के माध्यम से मृतक प्रिया को फर्जी हिन्दू नाम के जरिये फ़साया और बाद में राज खुलने पर हत्या कर दी थी और इस मामले में प्रिया की मासूम बेटी को भी मौत ले घाट उतार दिया गया था। साथ ही दोनो माँ बेटी को मकान में ही जमीन खोदकर दफना दिया गया था ताकि इस मामले की भनक किसी को न लगे।

प्रिया की माँ का लिया गया डीएनए सैंपल:

चूंकि पुलिस के खुलासे के बाद जब प्रिया और बेटी कशिश के शव बरामद किए थे तो वह केवल कंकाल के रूप में पाए गए थे इसलिए शवों की कानूनी पहचान और पुष्टि के लिए प्रिया की माँ से डीएनए मैच कराने का निर्णय लिया गया। इस सिलसिले में प्रिया की बूढ़ी माँ का सैंपल लेकर लैब में भेजा गया है ताकि माँ बेटी के डीएनए स्ट्रक्चर से मिलान किया जा सके।

हत्यारोपी को अंजाम तक पहुंचाने की कोशिश में चंचल:

इस पूरे हत्याकांड मामले का खुलासा प्रिया की सहेली चंचल ने किया था। पुलिस के पुलिसिया रंगढंग के साथ लड़ते-भिड़ते हुए चंचल ने हर संभव वो कदम उठाया जिससे इस राज को खोला जा सके और आखिरकार यही हुआ। आरोपी शमसाद पुलिस की गिरिफ्त में आया और सभी राज खोल दिये। अब चंचल की कोशिश है कि प्रिया और कशिश के हत्यारे को फांसी के फंदे तक पहुँचा सके जिससे भविष्य में ऐसी पुनरावृत्ति न हो पाए।

उदय बुलेटिन के साथ फेसबुक और ट्विटर जुड़ने के लिए यहाँ क्लिक करें।

उदय बुलेटिन
www.udaybulletin.com