उदय बुलेटिन
www.udaybulletin.com
 मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ 
मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ |Twitter
देश

मुख्यमंत्री बनते ही कमलनाथ ने पूरा किया वादा, किसानों के 2 लाख रूपये तक के लोन माफ़ 

मध्य प्रदेश में कमलनाथ के मुख्यमंत्री की कुर्सी संभालते ही किसानों की कर्जमाफी का आदेश जारी कर दिया गया है।

Uday Bulletin

Uday Bulletin

भोपाल | मध्य प्रदेश में कमलनाथ ( Kamal Nath ) के मुख्यमंत्री की कुर्सी संभालते ही किसानों की कर्जमाफी का आदेश जारी कर दिया गया है। यह आदेश कृषि विभाग के प्रमुख सचिव डॉ. राजेश राजौरा के हस्ताक्षर से जारी किया गया है। राजधानी के जंबूरी मैदान में सोमवार को राज्यपाल आनंदीबेन पटेल ने कमलनाथ को राज्य के 18वें मुख्यमंत्री के रूप में शपथ दिलाई। शपथ लेने के बाद मुख्यमंत्री कमलनाथ ( Kamal Nath ) सीधे सचिवालय पहुंचे, जहां उन्होंने कई फाइलों पर दस्तखत किए।

आपको बता दें कि, कांग्रेस ने अपने चुनावी घोषणापत्र में ही 2 लाख रुपये तक के कर्जमाफी ( loan waiver ) की घोषणा की थी, जिसे सरकार गठन के तुरंत बाद ही बाद अमल में लाया गया। कमलनाथ ( Kamal Nath ) के शपथ ग्रहण समारोह में पार्टी अध्यक्ष राहुल गांधी, यूपीए अध्यक्ष सोनिया गांधी के अलावा पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह, एचडी देवगौड़ा, शरद यादव, राकांपा के शरद पवार, चंद्रबाबू नायडू भी मौजूद थे. शपथ ग्रहण समारोह जम्बूरी मैदान में हुआ।

मप्र में किसानों की कर्जमाफी का फैसला  
मप्र में किसानों की कर्जमाफी का फैसला  
twitter

कृषि विभाग के प्रमुख सचिव डॉ. राजेश राजौरा के हस्ताक्षर से सोमवार को जारी आदेश में कहा गया है कि 'राज्य में स्थित राष्ट्रीयकृत तथा सहकारी बैंकों में अल्पकालीन फसल ऋण के रूप में शासन द्वारा पात्र किसानों के दो लाख रुपये की सीमा तक का 31 मार्च, 2018 की स्थिति में बकाया फसल ऋण को माफ ( loan waiver) किया जाता है।'

मध्यप्रदेश सरकार की तरफ से किसानों की कर्जमाफी की घोषणा के बाद कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने भी ट्वीट किया। उन्होंने ट्वीट किया, 'मध्यप्रदेश के सीएम ने किसानों का कर्ज माफ ( loan waiver) किया।'

बता दें कि मध्यप्रदेश विधानसभा के लिए 28 नवंबर को मतदान हुआ था और 11 दिसंबर को आए चुनाव परिणाम में प्रदेश की कुल 230 विधानसभा सीटों में से कांग्रेस को 114 सीटें मिलीं। यह संख्या बहुमत से कम थी। बावजूद कांग्रेस ने बसपा और सपा के सहयोग से मध्य प्रदेश में सरकार बनाया। कांग्रेस ने चुनाव से पहले वचनपत्र जारी किया था, जिसमें किसानों की कर्जमाफी सत्ता में आने के 10 दिनों के भीतर करने का भरोसा दिलाया गया था। कमलनाथ के शपथ लेते ही पहला जो सबसे बड़ा फैसला सामने आया है, वह किसानों की कर्जमाफी का ही है।

--आईएएनएस