Banda Mataundh Couple Murder
Banda Mataundh Couple Murder|Twitter
देश

प्रेमी-प्रेमिका को आपत्तिजनक स्थिति में देख लड़की के परिजनों ने जिंदा जलाया दोनों की मौत

मामला बांदा जिले के थाना मटौन्ध अंतर्गत ग्राम करछा से जुड़ा हुआ है, जहाँ पर बीती शाम एक प्रेमी युगल को छप्पर में जिंदा जला दिया गया।

Shivjeet Tiwari

Shivjeet Tiwari

मामले की जानकारी होते ही जिले के आला अधिकारियों ने मौके पर जाकर पड़ताल की और मुख्य आरोपी को पकड़ कर पूंछताछ की जा रही है।

प्रेमी युगल पकड़े गए जिंदा जलाया:

थाना मटौन्ध अंतर्गत आने वाले गांव करछा में बीती रात एक दर्दनाक हादसा हो गया दरसअल इसी गांव के निवासी भोला उम्र लगभग 22 वर्ष और उसी गांव की दूसरी लड़की प्रियंका पुत्री हुकुमा उम्र लगभग 20 वर्ष का प्रेम प्रषंग लंबे वक्त से चल रहा था इस पर दोनों पक्षों के लोगों को आपत्ति थी जिसको लेकर कई बार कहासुनी हो चुकी थी। लेकिन बीते दिन प्रेमी भोला प्रियंका के छप्पर नुमा मकान में जाते हुए देखा गया जिसकी भनक किसी प्रकार प्रियंका के भाई लाखन उर्फ लक्खू को मिल गयी, लाखन ने मौके पर जाकर देखा तो प्रेमी युगल एक छप्पर के अंदर आपत्तिजनक स्थिति में था। जिसपर प्रेमी जोड़े ने मौके से भाग निकलने की कोशिश की लेकिन लाखन में छप्पर नुमा मकान के दरवाजे बाहर से बंद कर दिए और दंड देने के लिए छप्पर के ऊपर चढ़कर मिट्टी के तेल डालकर आग लगा दी ,जिससे प्रेमी युगल बुरी तरह से झुलस गया और भोला की मौके पर ही मौत हो गयी जबकि प्रियंका को इलाज के लिए कानपुर रिफर किया गया। लेकिन कानपुर जाते समय रास्ते में (चिल्ला के पास) प्रियंका ने भी प्राण त्याग दिए।

मौके पर आला अधिकारी पहुँचे:

चूंकि मामला दो व्यक्तियों के जिंदा जलाने को लेकर था इसलिए मौके पर पुलिस विभाग के आला अधिकारी पहुँच गए और पुलिस द्वारा मुख्य आरोपी लाखन को गिरफ्तार किया गया और मामले की गहराई से जांच के लिए पूंछताछ शुरू कर दी है। मामले में पुलिस ने प्रत्यक्षदर्शियों के बयान लेकर और शव का पंचनामा करके पोस्टमार्टम के लिए भिजवाया।

लड़की ने दर्ज कराए कलमबंद बयान:

मामले की गंभीरता को देखते हुए डीआईजी बांदा और एसपी बांदा ने मामले में बेहद तेजी दिखाई और मृत युवक को पोस्टमार्टम के लिए भिजवाया तथा घायल प्रियंका को कानपुर रिफर किये जाने की स्थिति में एम्बूलेंस के माध्यम से भेजा। मामले पर लड़की ने डीआईजी और एसपी के सामने बयान दिए हैं। जिसमे प्रियंका ने बताया कि उसने खुद फोन करके युवक भोला को घर मे बुलाया था। इस पर घरवालों ने बाहर का दरवाजा बंद करके ऊपर से बरछी से हमला किया और भोला के ऊपर ताबड़तोड़ बरछी चलाई गई। बाद में हम दोनों को पूरी तरह से खत्म करने के लिए मिट्टी का तेल डालकर छप्पर को ही जला दिया जिससे भोला की मौके पर ही मौत हो गयी, हालांकि प्रियंका ने कानपुर जाते वक्त दम तोड़ दिया।

मामले में डीआईजी बांदा ने 9 लोगों के बारे में जानकारी दी है जिनमें चार लोगों की गिरफ्तारी हो चुकी है, बांकी लोगों की पुलिस सरगर्मी से तलाश कर रही है।

⚡️ उदय बुलेटिन को गूगल न्यूज़, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें। आपको यह न्यूज़ कैसी लगी कमेंट बॉक्स में अपनी राय दें।

उदय बुलेटिन
www.udaybulletin.com