उदय बुलेटिन
www.udaybulletin.com
Saradha Chit Fund Scam
Saradha Chit Fund Scam|Twitter
देश

Saradha Chit Fund Scam: 3 दिनों से कोलकाता पुलिस कमिश्नर से सीबीआई कर रही है पूछताछ 

सारधा चिटफण्ड केस के आरोपी बीजेपी नेता मुकुल रॉय से सीबीआई क्यों पूछताछ नहीं कर रही! मुकुल रॉय को पवित्रतता का सर्टिफिकेट देने बाद बीजेपी को अपनी पार्टी का नाम पवित्र नेता पार्टी कर लेना चाहिए

AKANKSHA MISHRA

AKANKSHA MISHRA

शिलोंग: Saradha chit fund scam: केंद्रीय जांच ब्यूरो (CBI) ने शारदा और रोज वैली चिट फंड घोटालों (Saradha chit fund scam) के संबंध में कोलकाता के पुलिस आयुक्त राजीव कुमार (Kolkata Police Commissioner Rajeev Kumar) और तृणमूल कांग्रेस के पूर्व राज्यसभा सदस्य कुणाल घोष (Kunal Ghosh) से सोमवार को फिर पूछताछ की। सीबीआई (CBI) ने कोलकाता के पुलिस आयुक्त राजीव कुमार (Kolkata Police Commissioner Rajeev Kumar) से लगातार तीसरे दिन, जबकि घोष से लगातार दूसरे दिन पूछताछ की है, जिन्हें सोमवार को राजीव कुमार (Kolkata Police Commissioner Rajeev Kumar) के सामने बैठाकर पूछताछ की गई।

सीबीआई (CBI) के एक अधिकारी ने कहा, "दोनों से पूछताछ हो रही है और हमें नहीं पता कि यह कब तक चलेगी।" चिटफंड (Saradha chit fund scam) के दो घोटालों में नवंबर 2013 में गिरफ्तार किए गए कुणाल घोष (Kunal Ghosh) को कोलकाता उच्च न्यायालय (Kolkata High Court) ने 2016 में जमानत पर रिहा कर दिया था।

कुणाल घोष (Kunal Ghosh) ने कहा, "उन्होंने (CBI) मुझे समन भेजा था। मैं सर्वोच्च न्यायालय (Supreme Court) के आदेश पर यहां आया और मै उनके साथ सहयोग करूंगा।"

उन्होंने कहा, "सीबीआई (CBI) मुझसे पूछताछ करने वाले पुलिस अधिकारी से पूछताछ कर रही है। यह मेरी नैतिक जीत है।"

घोष ने शारदा चिट फंड घोटाले (Saradha chit fund scam) में इससे पहले मुकुल राय और 12 अन्य लोगों के शामिल होने की बात की थी। मुकुल राय तृणमूल कांग्रेस छोड़कर भाजपा (BJP) में शामिल हो चुके हैं।

सीबीआई ने जरूरी दस्तावेज रखने और उनसे छेड़छाड़ करने के आरोप में कुमार से शनिवार को आठ घंटों तक पूछताछ की थी।

सर्वोच्च न्यायालय (Supreme Court) के मंगलवार के आदेश के अनुसार, कुमार कोलकाता से गुवाहाटी होते हुए शुक्रवार शाम शिलॉन्ग पहुंचे थे। सर्वोच्च न्यायालय (Supreme court) ने उन्हें तटस्थ स्थान शिलॉन्ग में सीबीआई की पूछताछ में सहयोग करने का निर्देश दिया था।

उनके साथ राज्य के तीन वरिष्ठ पुलिस अधिकारी- अतिरिक्त पुलिस आयुक्त जावेद शमीम, विशेष कार्य बल प्रमुख मुरलीधर शर्मा और सीआईडी प्रमुख प्रवीन कुमार त्रिपाठी भी हैं।

--आईएएनएस