उदय बुलेटिन
www.udaybulletin.com
कठुआ रेप  पीड़िता की वकील दीपिका सिंह राजवत
कठुआ रेप पीड़िता की वकील दीपिका सिंह राजवत
देश

कठुआ रेप केस मामला : पीड़ित परिवार ने वकील दीपिका रजावत को हटाया

पीड़िता के पिता ने पंजाब की पठानकोट अदालत में आवेदन दाखिल किया है |

AKANKSHA MISHRA

AKANKSHA MISHRA

जम्मू | कठुआ में दुष्कर्म के बाद मौत के घाट उतार दी गई आठ साल की बच्ची के परिवार ने अपनी वकील दीपिका राजावत को हटाने का फैसला किया है। कठुआ पीड़िता के पिता ने कहा कि दीपिका अदालत में सुनवाई के दौरान बमुश्किल ही उपलब्ध होती हैं।

परिवार के एक करीबी ने कहा कि पीड़िता के पिता ने पंजाब की पठानकोट अदालत में आवेदन दाखिल किया है, जहां मामले को स्थानांतरित किया गया था। आवेदन में कहा गया है कि रजावत उनका प्रतिनिधित्व नहीं करेंगी और उनसे वकालतनामा वापस लिया जा रहा है।

कठुआ पीड़िता के पिता ने बुधवार को यहां संवाददाताओं को बताया कि अदालत द्वारा मामले में अभी तक 100 बार सुनवाई हो चुकी है और सुनवाई के दौरान करीब 100 गवाहों से पूछताछ की जा चुकी है लेकिन रजावत परिवार की ओर से केवल दो बार ही पेश हुई हैं।

रजावत ने मीडिया को बताया कि जब से वह मामले से जुड़ी हैं तब से उन्हें जान से मारने की धमकियां मिल रही हैं। घुमंतू परिवार की मामले में अगुवाई करने की घोषणा के बाद रजावत ने अखबारों की सुर्खियां बटोरी थीं।

जम्मू एवं कश्मीर के कठुआ जिले के रसाना गांव में जनवरी माह में आठ साल की बच्ची के साथ दुष्कर्म करने के बाद उसकी हत्या कर दी गई थी। अपराध के कथित मास्टर माइंड सांझी राम सहित आठ लोगों को गिरफ्तार किया गया था।

आपको बता दें कि, सुप्रीम कोर्ट ने कठुआ दुष्कर्म मामले का ट्रायल को कठुआ से पंजाब के पठानकोट में ट्रांसफर किया था। चुकी पीड़िता का परिवार घुमंतू परिवार है इस पंजाब के पठानकोट में ट्रांसफर किया था। सुप्रीम कोर्ट ने आदेश दिया था कि आरोपियों को कठुआ जेल से गुरदासपुर जेल ट्रांसफर किया जाए, क्योंकि ट्रायल के दौरान लाने ले जाने में वक्त लगता है।