उदय बुलेटिन
www.udaybulletin.com
प्रधानमंत्री मोदी और लिंगायत संत शिवकुमार स्वामीजी 
प्रधानमंत्री मोदी और लिंगायत संत शिवकुमार स्वामीजी |Google
देश

पद्म भूषण और कर्नाटक रत्न पुरस्कार से सम्मानित 111 वर्षीय लिंगायत संत शिवकुमार स्वामीजी का निधन

कर्नाटक के तुमाकुरु में सिद्दगंगा पीठ के प्रमुख 111 वर्षीय शिवकुमार स्वामी का निधन हो गया है।

Uday Bulletin

Uday Bulletin

बेंगलुरू: कर्नाटक के तुमकुरू स्थित सिद्धगंगा मठ के प्रमुख लिंगायत संत 111 वर्षीय शिवकुमार स्वामीजी (Shivakumara Swami ji) का सोमवार को निधन हो गया। वह लंबे समय से बीमार थे। यह घोषणा मठ की ओर से की गई।

स्वामीजी (Shivakumara Swami ji) द्वारा स्थापित सिद्धगंगा एजुकेशन सोसायटी ने घोषणा की, ‘‘स्वामीजी पूर्वाह्न 11 बजकर 44 मिनट पर अपना नश्वर शरीर छोड़कर स्वर्ग के लिए प्रस्थान कर गए।’’

कब हुआ स्वामी जी का जन्म

मठ की वेबसाइट के अनुसार श्रद्धेय स्वामीजी का जन्म एक अप्रैल 1908 को कर्नाटक के वीरापुरा गांव में हुआ था। स्वामीजी (Shivakumara Swami ji) द्वारा स्थापित श्री सिद्धगंगा कालेज आफ एजुकेशन की वेबसाइट पर उनकी जन्मतिथि एक अप्रैल 1907 के तौर पर उल्लेखित है।

कर्नाटक के मुख्यमंत्री एच डी कुमारस्वामी ने की घोषणा

कर्नाटक के मुख्यमंत्री एच डी कुमारस्वामी (H. D. Kumaraswamy) ने तुमकुरू में संवाददाताओं से कहा, ‘‘मुझे अत्यंत दुख के साथ सूचित करना पड़ रहा है कि साक्षात् भगवान, परम पूज्य सिद्धगंगा श्री का निधन हो गया है। यह राज्य के लिए अपूरणीय क्षति है। उन्होंने समाज के प्रति जो योगदान किया उससे पूरे राज्य में लाखों लोगों का जीवन बदल गया। उन्होंने कई लोगों के भविष्य को आकार देने का काम किया।’’

तीन दिनों का शोक घोषित

कुमारस्वामी (H. D. Kumaraswamy) ने मंगलवार को सरकारी छुट्टी और तीन दिन के राजकीय शोक की घोषणा की।

कांग्रेस नेता मल्लिकार्जुन खड़गे ने कहा, सिद्धगंगा मठ के गुरु श्री शिवकुमार स्वामी जी के निधन के बाद, मैं भारत सरकार से उन्हें भारत रत्न देने का अनुरोध करता हूं। वह उपाधि पाने के योग्य है। वे कर्नाटक के ऐसे महान व्यक्ति, जिन्हें भारत रत्न देना उचित है।

पुरस्कार

पद्म भूषण और कर्नाटक रत्न पुरस्कार से सम्मानित स्वामीजी की तबीयत पिछले दो महीने से खराब थी और यकृत संबंधी जटिलताओं को लेकर दो महीने पहले चेन्नई के एक अस्पताल में उनकी सर्जरी की गई थी। स्वामीजी की स्थिति में थोड़ा सुधार दिखायी दिया था लेकिन पिछले कुछ दिनों से उनकी स्थिति अचानक खराब होने लगी।

मृत्यु

स्वामीजी की स्थिति नाजुक होने के बारे में जानकारी होने पर (H. D. Kumaraswamy) कुमारस्वामी, कांग्रेस नेता सिद्धरमैया और भाजपा प्रदेश अध्यक्ष बी एस येदियुरप्पा एवं राज्य के अन्य वरिष्ठ नेता दिन का अपना पूर्व निर्धारित कार्यक्रम रद्द करके तुमकुरू पहुंचे।