Kamal Haasan open letter to pm modi
Kamal Haasan open letter to pm modi|Google
देश

कमल हसन ने मोदी को लिखा खुला पत्र, जताया विरोध

कोरोना जैसी महामारी में दुनिया लॉक डाउन करते हुए नहीं थक रही और साहब ने इसका विरोध कर दिया, वो भी पार्टी के लेटर हेड पर।  

Shivjeet Tiwari

Shivjeet Tiwari

साहब अभिनय से राजनीति में नए-नए आये हैं...

ये भारत है यहां सबको कुछ भी बोलने की आजादी है, फिर चाहे साहित्य के विद्यार्थी का ग्रिड फेल हो जाने जैसी तकनीकी विषय पर अपना ज्ञान देना हो या फिर कमल हासन का देश मे चल रहे लॉक डाउन को नोटबन्दी जैसा निर्णय करार देना। अब तो जनता भी टेंशन में है कि आखिर सुने किसकी और माने किसकी। क्योंकि कई बार लोगों के बयान इतने विरोधी होते है कि अन्तर तो छोड़िए इनमें दूर-दूर तक कोई विरोध भी नहीं होता।

कमल हासन का सीधा मामला है:

कमल हासन ने अपने लिखे हुए पत्र में मोदी के नोटबन्दी वाले कारनामे को रिफरेंस बनाकर लिखा है कि " माननीय मोदी जी, मैं देश के एक जिम्मेदार लेकिन आशाहीन नागरिक की तरह एक पत्र लिख रहा हूँ, मैंने बीते 23 मार्च को एक पत्र आपके संज्ञान में लाया था जिसमें मैंने सरकार से आग्रह किया था कि आप समाज के पिछड़े तबके, कमजोर नायकों से मुँह मोड़कर कोई एलान न करें। लेकिन इसके बावजूद भी सरकार ने मेरी आशा के विपरीत देश में अचानक लॉक डाउन का आदेश जारी कर दिया जो कि बिल्कुल नोटबन्दी जैसे हालात उत्पन्न करता है।

मैं आपको अवगत कराना चाहूंगा की मैं नोटबन्दी के समय दिए गए आदेश के वक्त भी हैरान परेशान था, और आज भी आपके निर्णय को गलत पाया, मैं जो आपके प्रति सही होने की धारणा रखता था उसमें मैं गलत हुआ। क्योंकि महोदय आप गलत निकले।  

कमल को दिए जलाने वाली बात हजम नही हुई :

भले ही देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश के लोगों से दिए जलाने की बात एक जुटता दिखाने के लिए की हो लेकिन कमल हासन को इसमे आपत्ति नजर आयी उन्होंने अपने पत्र में जमीनी स्तर पर जीने वाले लोगों के लिए ये न सिर्फ असुविधा जनक बताया बल्कि ये तमाशे जैसा कहा।

पूरा पत्र ही पढ़ लीजिये:

लेकिन बात यहीं खत्म नही हुई, लोगों ने कमल से ही सवाल करने शुरू कर दिए, एक उपयोगकर्ता ने तो बाकायदा लिस्ट बनाकर भेज दी। सवालों में जामाती कोरोना वायरस फैलने के संबंध में कमल से चुटीले सवाल पूँछे गए।

उदय बुलेटिन के साथ फेसबुक और ट्विटर जुड़ने के लिए यहाँ क्लिक करें।

उदय बुलेटिन
www.udaybulletin.com