झांसी पॉलिटेक्निक के छात्रों ने नाबालिग को अगवा कर रेप किया

पुलिस की जाँच में कई ऐसे तथ्य सामने आये हैं जो चौंकाने वाले हैं
झांसी पॉलिटेक्निक के छात्रों ने नाबालिग को अगवा कर रेप किया
Jhansi polytechnic college rape case accusedGoogle Imgae

ज्ञात हो कि उत्तर प्रदेश के झांसी शहर में एक लड़की को अगवा करके जबरन रेप करने का मामला सामने आया था, लड़की को राह चलते हुए पॉलिटेक्निक के छात्रों द्वारा उठाकर इस घटना को अंजाम दिया गया था, हालांकि मामले के हाइप होने पर पुलिस ने लगभग सभी आरोपित छात्रों को गिरफ्तार कर लिया है, अब पुलिस जांच में अन्य साक्ष्य तलाशने की बात कह रही है।

कमरों की तलासी में लाठी डंडे और चाकू इत्यादि बरामद:

झांसी मामले में रेप पिड़िता के बयानों के आधार पर स्थानीय झांसी पुलिस ने धरपकड़ अभियान चलाया और इस दौरान लगभग सभी आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया है। पूँछताँछ और तलाशी अभियान में झांसी पुलिस ने आरोपी छात्रों के छात्रावास में से चाकू, डंडे, हॉकी स्टिक और स्टंप भयानक मात्रा में बरामद किए है। गौरतलब हो कि ये हथियार छात्रों द्वारा मारपीट के लिए प्रयोग में लाये जाते थे, यहां पर पुलिस को आशंका है कि अगर आरोपी छात्रों को मौका मिलता तो वह रेप पीड़ित छात्रा के साथ रेप के बाद हत्या जैसी वारदात को भी अंजाम दे सकते थे।

मोबाइल अश्लील क्लिप्स से भरा हुआ मिला:

झांसी पुलिस ने जब आरोपी छात्रों की तलाशी ली और आरोपी छात्रों के मोबाइल फोन बरामद किए, इस दौरान मोबाइल की खोजबीन करने पर यह पाया गया कि उक्त छात्रों के मोबाइल पोर्न क्लिप्स से भरे पड़े थे, पुलिस अधीक्षक ने जानकारी में यह भी कहा कि हो सकता है कि ये अश्लील क्लिप्स छात्रों को यौन अपराध के लिए प्रेरित कर रहे हो, मामले को हर एंगल से देखा जा रहा है।

ब्लैकमेलिंग की थ्योरी भी है सामने:

मामले की गंभीरता और अन्य महिलाओं के आपत्तिजनक चित्रों के साथ-साथ वीडियो पाए जाने के बाद पुलिस इस मामले में यह भी देख रही है कि क्या इन छात्रों के द्वारा किन्ही अन्य महिलाओं और लड़कियों को ब्लैकमेल तो नही किया जा रहा, दरअसल आरोपियों के मोबाइल्स में इस तरह की अश्लील क्लिपिंग की भरमार है, साथ ही छात्रों के मूल निवास , स्थायी निवासों में जाकर पुलिस छात्रों के चरित्र की तस्दीक़ भी कर रही है, पुलिस यह जानने की कोशिश कर रही है कि क्या पहले भी किसी मामले में इन छात्रों का नाम ऐसे ही किसी मामले में आया है क्या?

आसपास के लड़कों से होती रही है लड़ाइयां:

पुलिस ने रेप मामले पर छानबीन के दौरान दौरान यह पाया कि संगठित होने के कारण अन्य संस्थानों के विद्यार्थियों के बीच काफी लड़ाइयां होती रहती थी, दरअसल पॉलिटेक्निक के छात्र हमेशा से इलाके में अपना दबदबा कायम रखना चाहते थे और दबदबा के नकारने पर खूनी लड़ाइयां भी होती थी।

वसूली करते थे छात्र, रास्ते से महिलाओं का निकलना दूभर:

मामले में लोकल लोगों ने इस बात की तस्दीक भी की और बताया कि इलाके से महिलाओं और स्कूल जाती बच्चियों के लिए निकलना मुश्किल होता था, पॉलिटेक्निक के छात्र सड़क पर जाती हुई महिलाओं और लड़कियों की शारीरिक बनावट पर कमेंट करने से बाज नही आते थे, गंदे इशारे और गाली-गलौच बेहद आम थी।

यही नहीं कालेज में शुरुआती कक्षा के छात्रों का शोषण भी सीनियर्स के द्वारा बदस्तूर जारी था, अगर कोई छात्र अपने घर से लौट कर जाता था तो उसे चढावे के तौर पर सीनियर्स को खाने की वस्तुएं और पैसे देने पड़ते थे।

हालांकि इस मामले में झांसी पुलिस परत दर परत उखाड़ने का काम कर रही है, देखना यह है कि इस जांच के लपेटे में कितने लोग आते है।

⚡️ उदय बुलेटिन को गूगल न्यूज़, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें। आपको यह न्यूज़ कैसी लगी कमेंट बॉक्स में अपनी राय दें।

Related Stories

उदय बुलेटिन
www.udaybulletin.com