उदय बुलेटिन
www.udaybulletin.com
रामपुर लोकसभा चुनाव
रामपुर लोकसभा चुनाव|Twitter
देश

रामपुर: वोट बटोरने के लिए जया ने बहाये आंसू, आज़म खान को मंच से कोसा

रामपुर की रैली में गूंजा जया प्रदा का नाम  

AKANKSHA MISHRA

AKANKSHA MISHRA

भारतीय जनता पार्टी में अभी-अभी शामिल हुई जया प्रदा ने आज उत्तर प्रदेश के रामपुर लोकसभा सीट से नामांकन दाखिल किया। नामांकन दाखिल करने के बाद जया चुनाव प्रचार के लिए जनता के बीच पहुंची तो मंच से ही रोने लगे। रामपुर लोकसभा सीट में रैली को संबोधित करते हुए जया प्रदा ने सपा नेता आजम खान पर कई आरोप लगाए। जया प्रदा ने कहा बीजेपी में शामिल होने के बाद मुझे लग रहा है मैं देश के लिए कुछ कर सकती हूं।

रैली को संबोधित करते हुए जया प्रदा ने कहा

“मुझे जीने का हक है, मैं जीना चाहती हूं। मैं रामपुर से कभी जाना नहीं चाहती थी। लेकिन मेरे चेहरे पर तेजाब फेंकने की धमकी दी गई। मुझे जाना पड़ा। आजम खान ही मुझे रामपुर लाए थे तो क्या उन्हें नहीं पता था कि मैं फिल्मों में काम करती हूं । उन्हें नहीं पता था कि मैं नाचने वाली हूं।”

जया प्रदा

यह बोलते हुए जया प्रदा की आंखों से आंसू झलक उठे, लेकिन उन्होंने खुद को संभालते हुए कहा “जब मैं सपा में थीं तो अखिलेश यादव ने कभी मेरा साथ नहीं दिया। मुझे मायावती जी पर दया आती है, मायावती जी जरूर किसी मजबूरी के तहत समाजवादी पार्टी के साथ गठबंधन करने पर राजी हुई होंगी। मुझे महागठबंधन पर तरस आता है।”

इसके बाद बीजेपी नेता जया ने 2019 के लोकसभा चुनाव का नारा देते हुए और कहा -

मैं कमल खिलाने आई हूँ,

मैं कमल खिलाकर जाउंगी।

भारत की संसद में,

फिर से मोदी जी को पहुँचाऊंगी।

जया को मंच पर रोता देख कर बीजेपी समर्थक भी नारा लगाने लगे .....

जया जी संघर्ष करो हम आपके साथ है। जय हिन्द, वंदे मातरम, भारत माता की जय .....

बीजेपी समर्थक

आपको बता दें कि, जया प्रदा लंबे समय से राजनीति से जुड़ी हुई हैं। अदला-बदली के दौर से प्रभावित होकर जया ने भी समाजवादी पार्टी की साइकिल का साथ छोड़ कमल खिलाने की ठान ली और बीजेपी में शामिल हो गई। 26 मार्च को बीजेपी में शामिल होते ही पार्टी ने उन्हें हाथों-हाथ लोकसभा का टिकट थमा दिया। और सपा के वरिष्ठ नेता आजम खान के खिलाफ रामपुर के मैदान से उतार दिया। दिलचस्प बात यह है कि आजम खान खुद जयाप्रदा को समाजवादी पार्टी के लिए रामपुर लाए थे और अब दोनों एक दूसरे के विरोध में चुनाव लड़ने वाले हैं।