महोबा जिले में अनियंत्रित ट्रक ने 5 साइकिल सवार छात्रों को कुचला, दो की मौत

तेज़ रफ़्तार ट्रक ने 5 छात्रों को कुचला
महोबा जिले में अनियंत्रित ट्रक ने 5 साइकिल सवार छात्रों को कुचला, दो की मौत
महोबा जिले में अनियंत्रित ट्रक ने 5 साइकिल सवार छात्रों को कुचलाuday bulletin

उत्तर प्रदेश के महोबा जिले में तेज रफ्तार का कहर एक बार फिर देखने को मिला, थाना कुलपहाड़ क्षेत्र अंतर्गत ग्राम सुंगिरा में एक अनियंत्रित ट्रक ने कोचिंग पढ़ने जाते पांच छात्रों को कुचल दिया। इस दुर्घटना में दो छात्रों की मौके पर ही मौत हो गयी जबकि तीन छात्र बेहद गंभीर स्थिति में बताये जा रहे है।

कोचिंग जाते छात्रों को ट्रक ने कुचला:

गुरुवार का दिन महोबा जिले के लिए बेहद दुखदाई रहा, महोबा जिले के कुलपहाड़ कस्बे के मात्र 5 किलोमीटर दूरी पर स्थित ग्राम सुंगिरा के पांच छात्र जो इंटरमीडिएट के छात्र थे और ग्राम सुंगिरा से कुलपहाड़ कस्बे में कोचिंग पढ़ने के लिए जा रहे थे तभी दूसरी तरफ से आ रहे बेलगाम तेज रफ्तार ट्रक ने पांचों छात्रों को कुचल दिया। कुछ छात्र ट्रक की टक्कर से छिटक कर कई मीटर की दूरी पर गिरे वही दो छात्र ट्रक की सीधी चपेट में आकर मौके पर ही दुःखद मृत्यु को प्राप्त हुए।

सुबह निकले लोगों ने हासिल की जानकारी:

घटनास्थल पर ट्रक चालक द्वारा घटना को अंजाम देकर फरार हो गया, मामले की जानकारी तब हुई जब कुछ ग्रामीण और किसान सुबह घूमने को निकले तभी कुलपहाड़ की ओर जाने वाले राष्ट्रीय राजमार्ग पर छात्रों के मृत शरीर और घायल छात्र गिरे दिखाई दिए। ग्रामीणों ने इस मामले पर स्थानीय पुलिस चौकी को जानकारी दी और जिले का पूरा प्रशासनिक अमला मौके पर पहुँचा।

मामले पर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सीधा संज्ञान लेते हुए दुख जताया है और हर संभव मदद की पेशकश की है।

घटना की जानकारी होते ही गुस्साए ग्रामीणों ने राष्ट्रीय राजमार्ग पर शवों को रखकर जाम लगा दिया जिसपर राजमार्ग के दोनो तरफ भारी ट्रैफिक जाम हो गया, इस पर आला अधिकारियों ने ग्रामीणों को समझा बुझाकर मामले को शांत किया और विधिक कार्यवाही करने की बात कही।

पुलिस द्वारा मृत छात्रों के शवों को पंचनामा करके पोस्टमार्टम के भेजा गया है वही घायल छात्रों को जिला अस्पताल भिजवाया है। हालांकि ताजा प्राप्त सूचना के अनुसार घायलों को उच्च चिकित्सकीय व्यवस्था के लिए जिले से बाहर रेफर किया गया है।

अखिलेश यादव ने जताया शोक:

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने इस मामले पर दुःख जताते हुए सरकार से छात्रों के समुचित इलाज की बात कही है।

तेज रफ्तार वाहन बन रहे काल:

अगर झांसी मिर्जापुर राष्ट्रीय राजमार्ग की बात करें तो लोगों के अनुसार इस राजमार्ग को यमदूत राजमार्ग घोषित किया जाना चाहिए। रेत और पत्थर के व्यवसाय के कारण यहां ओवरलोड भारी वाहनों का अनियंत्रित होना बेहद आम बात है ,भारी वाहन अपने लाभ के लिए जानवरों समेत इंसानो के लिए काल बने हुए है, हाइवे पर तैनात पुलिस कर्मी भी रात और सुबह के वक्त अपना कमीशन लेकर आँखें बंद करते नजर आते है।

⚡️ उदय बुलेटिन को गूगल न्यूज़, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें। आपको यह न्यूज़ कैसी लगी कमेंट बॉक्स में अपनी राय दें।

Related Stories

उदय बुलेटिन
www.udaybulletin.com