इस बार का कोरोना है बहरूपिया, बदल रहा सैकड़ों रूप

डॉक्टरों द्वारा कोरोना के प्रथम संक्रमण के बाद ही इसे बेहद घातक और जानलेवा बताया था लेकिन अब यह डॉक्टरों की सोच से आगे भी निकल चुका है।
इस बार का कोरोना है बहरूपिया, बदल रहा सैकड़ों रूप
इस बार का कोरोना है बहरूपिया, बदल रहा सैकड़ों रूपgoogle iamge

दूसरी लहर में डॉक्टरों ने कोरोना के ऐसे राज खोले है कि आपका दिल सहम जाएगा। ऐसे वक्त में सावधानी ही सबसे बड़ा उपाय है, गोरखपुर के बीआरडी मेडिकल कालेज के डॉक्टर कोरोना की हरकतों को देखकर हैरान है।

कोरोना के पूरे लक्षण लेकिन जांच में निगेटिव:

सबसे चौकाने वाली डॉक्टरों ने यह बतायी कि इस बार कोरोना की दूसरी लहर बेहद चौकाने वाली है दरअसल कुछ मरीजों में कोविड के पूरे लक्षण नजर आ रहे है और उनके फेफड़ों में संक्रमण भी नजर आ रहा है लेकिन फिर भी बार-बार चेक करने पर ट्रू नेट के अलावा आर टी पीसीआर की जांच में भी पॉजिटिव नही पाए जा रहे है। उन्हें सांस लेने में तकलीफ भी हो रही है और शरीर का आक्सीजन लेवल भी लगातार गिर रहा है।

बिना लक्षण वाले मरीज बेहद खतरनाक:

डॉक्टरों ने बताया कि बिना लक्षण वाले मरीज, लक्षण वाले मरीजों से बेहद अलग है। वो टेस्ट में तो पॉजिटिव आ रहे है लेकिन उनमें कोविड से सम्बंधित एक भी लक्षण उपस्थित नही है। डॉक्टरों ने संक्रमण के लक्षणों में इजाफा करते हुए बताया कि इस बार के लक्षण पहली लहर से बढ़कर नजर आ रहे है जिनमें दस्त, पेट की समस्या इत्यादि भी शामिल है।

डाक्टर वैक्सीन के साथ-साथ मास्क को बता रहे उपयोगी:

बीआरडी मेडिकल कालेज के डॉक्टरों ने बताया कि इस तरह का कोरोना विस्फोट केवल और केवल लोगों की गलतफहमी की वजह से हुआ है दरअसल लोगों ने कोरोना को खत्म हुआ मान लिया था और लोगों ने वैक्सीन के बाद यह मान लिया कि उन्हें कोरोना छू नही सकता बल्कि वैक्सीन कभी यह दावा नही करती कि वैक्सीन लगवाने पर संक्रमण नही होगा बल्कि दावा यह होता है कि वैक्सीन संक्रमण होने के बाद कि क्रिटिकल कंडीशन को दूर रखती है ,

⚡️ उदय बुलेटिन को गूगल न्यूज़, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें। आपको यह न्यूज़ कैसी लगी कमेंट बॉक्स में अपनी राय दें।

No stories found.
उदय बुलेटिन
www.udaybulletin.com