उदय बुलेटिन
www.udaybulletin.com
बिशप फ्रांको मुलक्कल
बिशप फ्रांको मुलक्कल |The Telegraph
देश

केरल नन दुष्कर्म मामले के गवाह पादरी कुरियाकोज कट्टथारा की मौत  

केरल नन दुष्कर्म मामले के आरोपी बिशप फ्रांको मुलक्कल के खिलाफ गवाही देने वाले फादर कुरियाकोज कट्टथारा सोमवार को पंजाब के होशियारपुर जिले में रहस्यमयी परिस्थितियों में मृत पाए गए।

AKANKSHA MISHRA

AKANKSHA MISHRA

चंडीगढ़, 22 अक्टूबर| केरल नन दुष्कर्म मामले के आरोपी बिशप फ्रांको मुलक्कल के खिलाफ गवाही देने वाले फादर कुरियाकोज कट्टथारा सोमवार को पंजाब के होशियारपुर जिले में रहस्यमयी परिस्थितियों में मृत पाए गए। पंजाब पुलिस ने कहा है कि 67 वर्ष के बिशप की मौत के संबंध में जांच जारी है।

दसूया पुलिस के एक अधिकारी ने कहा, "हमारी टीम घटनास्थल पर गई है और मामले की जांच कर रही है।"

कट्टथारा को दसूया शहर के संत मैरी चर्च कांप्लेक्स के अंदर एक कमरे में मृत पाया गया। वह जालंधर डाइओसिस के अंतर्गत थे, जिसकी अगुवाई मुलक्कल करते हैं।

कट्टथारा ने केरल की नन द्वारा मुलक्कल पर दुष्कर्म का आरोप लगाने के बाद उनके खिलाफ खुले तौर पर बयान दिए थे।

पीड़ित के भाई जोस कट्टथारा ने पुलिस में शिकायत दर्ज कराई है और जिन परिस्थितियों में पादरी की मौत हुई है, उस पर सवाल उठाए हैं।

कट्टथारा ने कुछ साक्षात्कारों में पीड़ित नन का समर्थन करने और बिशप के खिलाफ बोलने पर अपने जान के खतरे की पहले ही आशंका जताई थी।

मुलक्कल को 2014 से 2016 तक एक नन के साथ लगातार दुष्कर्म करने के आरोप में 21 सितंबर को गिरफ्तार किया गया था और 24 सितंबर को दो हफ्तों की न्यायिक हिरासत में भेजा गया था।

मुलक्कल को केरल उच्च न्यायालय ने 16 अक्टूबर जमानत दे दी थी और कोट्टायम के समीप पाला उप कारागार से निकलने के बाद उसी दिन वह जालंधर चले गए थे।

क्या है मामला

आरोपी बिशप फ्रांको मुलक्कल पर आरोप है की उन्होंने 2014 से 2016 तक एक नन के साथ लगातार दुष्कर्म किया है। शिकायत दर्ज होने के 100 दिनों से ज्यादा होने के बाद बिशप को गिरफ्तार न करने पर कई दिनों तक ननों द्वारा प्रदर्शन किया गया था। उनका कहना था कि बिशप राजनीतिक तौर पे ताकतवर है, नेता उसका समर्थन करते है। सीबीआई से इस मामले की जाँच कराने की मांग की गई थी , बाद में दबाव के कारण पुलिस ने आरोपी बिशप फ्रांको मुलक्कल को गिरफ्तार कर लिया।