कहीं कोरोना वैक्सीनेशन सेंटर न बन जाये कोरोना स्प्रेड सेंटर

वैसे तो सरकार कोविड वैक्सीनेशन सेंटर लोगों की जान बचाने और कोविड बचाव के लिए चलवा रही है लेकिन अगर सेंटरों की भीड़ का अंदाजा लिया जाए तो मालूम होता है कि यही सेंटर भयानक स्प्रेड सेंटर न बन जाये।
कहीं कोरोना वैक्सीनेशन सेंटर न बन जाये कोरोना स्प्रेड सेंटर
बाँदा जिला चिकित्सालय के कोविड वैक्सीनेशन सेंटर पर भीड़Uday Bulletin

स्थिति यह है स्वास्थ्य कर्मी तो अपनी जिम्मेदारी बखूबी निभा रहे है लेकिन जिस हिसाब से लोगों का हुजूम बिना रजिस्ट्रेशन के पहुँच रहा है इससे स्थिति भयावह होती जा रही है। अस्पतालों में बुजुर्गों की भारी भीड़ रोजाना पहुँच रही है जिस वजह से संक्रमण का खतरा बेहताशा बढ़ रहा है। बाँदा के जिला चिकित्सालय में स्थापित कोविड वैक्सीनेशन सेंटर में लोगों की आवक नए खतरे को जन्म दे रहा है। सेंटर में हज़ारों की भीड़ महज एक घंटे में हो जा रही है। हालाँकि इस वक्त सेंटर में उतने काउंटर उपलब्ध नही है जिनसे लोगों को जल्द वैक्सिनेट किया जा सके।

क्या होने चाहिए विकल्प ?

विकल्प सीधे साधे है वैक्सीनेशन सेंटर की संख्या में इजाफा किया जाए

ज्यादा काउंटर लगाए जाएं

लोगों को पहले रजिस्ट्रेशन करके उन्हें काल अथवा मैसेज के माध्यम से सेंटर तक बुलाया जाए जिससे भीड़ से निजात मिल सकती है।

⚡️ उदय बुलेटिन को गूगल न्यूज़, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें। आपको यह न्यूज़ कैसी लगी कमेंट बॉक्स में अपनी राय दें।

No stories found.
उदय बुलेटिन
www.udaybulletin.com