Tablighi Jamaat Misbehave with Doctor
Tablighi Jamaat Misbehave with Doctor|Google
देश

डॉक्टरों पर थूककर मेहमाननवाजी की मांग कर रहा कोरोना संक्रमित जामाती

कोरोना पॉजिटिव जमाती बोला मौत से दर नहीं लगता मुझे।

Shivjeet Tiwari

Shivjeet Tiwari

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की रिपोर्ट के अनुसार इन दिनों कोरोना का कहर दिल्ली में हुई तबलीगी जामात के द्वारा अपने चरम पर पहुँच गया है। इसके साथ ही दिनों दिन जमातियों द्वारा डॉक्टरों और पुलिस कर्मियों के साथ अभद्रता के साथ उतर आया है।

कानपुर से नया मामला :

दरअसल कानपुर के रामा अस्पताल में पिछले कुछ दिनों पहले कुछ जामाती क्वारण्टाइन में रखे गए थे जिनकी जांच किये जाने पर एक जामाती कोरोना पॉजिटिव पाया गया है। जिसे आइसोलेशन वार्ड में भेजते समय भारी समस्या का सामना करना पड़ा। सनद रहे कि ये जमाती कानपुर की ही खैर मछरिया मस्जिद से पकड़े गए थे। जहां वह मस्जिद के मौलवियों की मदद से सरकार और पुलिस की नजर से बचाकर रह रहे थे।

डॉक्टरों पर थूका और मांगी मेहमाननवाजी :

दरअसल जैसे ही अस्पताल प्रशासन को यह पता चला कि जांच में एक एक संदिग्ध कोरोना पॉजिटिव पाया गया है उसके बाद ही अस्पताल ने उक्त जामाती को आइसोलेट करने का फैसला किया। इसपर कोरोना संक्रमित भड़क गया और बात यहीं तक सीमित नहीं रही, कोरोना पॉजिटिव व्यक्ति डॉक्टरों पर थूकने लगा और कहा कि मैं मौत से नही डरता।

कोरोना पॉजिटिव व्यक्ति आइसोलेशन में जाते समय पहले तो वार्ड में आसानी से नहीं गया और जब गया तो खुद को वार्ड में बंद कर लिया जिससे अस्पताल प्रशासन के हाँथ पैर फूल गए। जब अस्पताल के डॉक्टरों ने जामाती को इस मामले में योगी आदित्यनाथ से शिकायत करने की बात कही तब कहीं जामाती ने वार्ड का दरवाजा खोला और यह कहा कि मैं मौत से नहीं डरता मेरी मेहमाननवाजी करो।

अस्पताल की माने तो ऐसे माहौल में डॉक्टरों की सहायता न करना इस बीमारी के हालात बुरे बना सकता है।

उदय बुलेटिन के साथ फेसबुक और ट्विटर जुड़ने के लिए यहाँ क्लिक करें।

उदय बुलेटिन
www.udaybulletin.com