उदय बुलेटिन
www.udaybulletin.com
भाजपा अध्यक्ष अमित शाह
भाजपा अध्यक्ष अमित शाह|IANS
देश

अनाधिकारिक रूप से प्रवेश कर अमित शाह नए कन्नूर हवाईअड्डे के ‘पहले’ यात्री बने

केरल सरकार ने यहां अमित शाह के लैंडिंग को रोकने की पूरी कोशिश की थी , लेकिन दिल्ली से नागर विमानन अधिकारियों के आदेश के बाद उन्हें अमित शाह के विमान को एयरपोर्ट पर लैंडिंग देनी पड़ी 

AKANKSHA MISHRA

AKANKSHA MISHRA

कन्नूर(केरल): भाजपा अध्यक्ष अमित शाह शनिवार को अनाधिकारिक रूप से यहां के अंतर्राष्ट्रीय हवाईअड्डे पर उतरने वाले 'पहले यात्री' बन गए। इस हवाईअड्डे को जल्द ही लोगों के लिए खोला जाएगा।

केरल सरकार ने यहां अमित शाह के लैंडिंग को रोकने की पूरी कोशिश की, लेकिन दिल्ली से नागर विमानन अधिकारियों के हस्तक्षेप के बाद राज्य सरकार को अपना रुख बदलना पड़ा।

हवाईअड्डे के उद्घाटन की तिथि अभी तय नहीं हुई है। अमित शाह यहां सुबह आए और राज्य भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठ नेताओं ने उनकी आगवानी की। दिल्ली लौटने से पहले अमित शाह तिरुवनंतपुरम और उसके बाद वरकाला जाएंगे।

केरल में जनसभा को संभोधित करते हुए बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने कहा कि "विपक्षी सरकार ने केरल में चल रहे सबरीमाला विवाद में वहा की जनता को भड़का दिया है, जिसके कारण बीजेपी, आरएसएस और उसके सहयोगियों के लगभग 2,000 समर्थकों को गिरफ्तार किया गया है। पुलिस क्रैकडाउन मंदिरों के खिलाफ एक कम्युनिस्ट साजिश है। लेकिन हम केरल के लोगों को आश्वस्त करना चाहते हैं कि भाजपा उनके साथ चट्टान की तरह खड़ी है।

“ मैं केरल के कम्युनिस्ट मुख्यमंत्री को सर्वोच्च न्यायालय के फैसले को लागू करने के नाम पर भगवान अयप्पा के भक्तों का दमन करने के फैसले के खिलाफ हूं”।

आपको बता दें कि, 24 जून को केंद्रीय उड्डयन मंत्री सुरेश प्रभु ने ऐलान किया था कि कन्नूर हवाईअड्डा लिमिटेड (KRAL) सितम्बर माह से खुलेगा, लेकिन निर्माण कार्य पूरा नहीं होने के कारण इसे नहीं खोला गया था। हवाईअड्डे के उद्घाटन की तिथि अभी तय नहीं हुई है।

आईएएनएस द्वारा प्राप्त जानकारी के अनुसार, 1892 करोड़ रुपये की लगत से बनने वाले इस हवाईअड्डे को अंतरिम रूप देने का काम किया जा रहा है। 2000 एकड़ जमीन पर बने इस हवाईअड्डे को जल्दी ही आम लोगों के लिए खोला जायेगा। बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह केरल जनसभा को सम्बोधित करने आए थे , राज्य सरकार के अमित शाह को रोकने की कोशिश की थी , लेकिन केंद्र सरकार के दखल के बाद उन्हें अनुमति दे दी गई।