उदय बुलेटिन
www.udaybulletin.com
BSNL News
BSNL News|Google
देश

नही ठप होगा बीएसएनएल, बीएसएनएल ने जारी किया पत्र

सरकारी कंपनियों की दशा और दिशा किसी से भी छुपी नही है, हर तरफ सरकारी कंपनियों में जिस तरह लालफीताशाही है उसकी वजह से नुकसान हो रहा है , उसका नतीजा तो देर सबेर आना ही था

Shivjeet Tiwari

Shivjeet Tiwari

बीएसएनएल (BSNL) यानी भारत संचार निगम लिमिटेड, भारत की वह सबसे बड़ी दूरसंचार कंपनी जिसने अपने रुआब के समय मे सिम ऐसे बेची जैसे आज कल एप्पल का आई फोन बिकता है, एक समय था जब लोग अपनी बिटिया की शादी उस घर मे करने के लिए तैयार हो जाते जहां बीएसएनएल का सिम उपलब्ध है (हालांकि यह अतिश्योक्ति अलङ्कार का प्रयोग किया गया है) कुलमिलाकर बीएसएनएल की लोकप्रियता का आलम इस कदर था कि लैंडलाइन और मोबाइल कनेक्शन लेना बेहद बड़ा काम, चाहे वह केरल हो या गुजरात का कच्छ, या फिर कोई पहाड़ों वाली दुर्गम जगह , या तराई का क्षेत्र बीएसएनएल ने अपने पांव कुछ इस तरह पसारे की बीएसएनएल सर्वव्यापी साबित हुआ, लेकिन एक कहावत है कि अगर आप अपने आप को हमेशा दूसरों से तोल कर मैनेज नही करोगो तो आप निश्चित ही टूटोगे, और यही हाल है आज देश की सबसे पुरानी और एक समय की सबसे बड़ी दूरसंचार प्रदाता कंपनी का !

अफवाहों का बाजार चरम पर है :

मतलब बीएसएनएल न हुआ भिंडी बाजार का कबाड़ हो गया, हर मिनिट कोई न कोई खबर आ ही जाती है जिसमे बीएसएनएल के बिकने, या बंद होने की जानकारी होती है, हांलाकि ऐसा भी नही की ये बातें फर्जी है, इनमें बीएसएनएल के आर्थिक मोर्चे पर फेल होने के पुख्ता प्रमाण है, सो इन अफवाहों को तगड़ा वाला बल मिल जाता है, चूँकि बीएसएनएल एक बड़ा नेटवर्क प्रोवाइडर ही नही, इसके पास लंबा इंफ्रास्ट्रक्चर है जिसका उपयोग लंबे समय तक किया जा सकता है, लेकिन सबसे अहम सवाल तो ये भी जिंदा है कि अगर सरकार बीएसएनएल को बेंचना भी चाहे तो इसे खरीदेगा कौन ?

अब आप ये कहेंगे कि इतना लंबा चौड़ा व्यवसाय, सारे उपकरण, किसी कंपनी के बिकने के लिए काफी है, तो जरा ठहरिए, आज जमाना 4जी का है, बीएसएनएल अभी भी 2जी और 3जी तक ही सिमटा हुआ है, अगर 4जी भी होता तब भी ठीक ही था लेकिन अगर 4 जी होता भी तब भी कोई ज्यादा फर्क नही पड़ता क्योकि आज के समय मे लगभग सभी टेलिकमन्यूकेशन कंपनियों ने अपने आप को व्यापक स्तर पर फैला लिया है, तो अब बीएसएनएल के संसाधनों की जरूरत किसी को नही होगी।

बीएसएनएल की प्रेस रिलीज़:

Press Release

Posted by BSNL India on Friday, October 11, 2019

क्या है सम्भावनाएँ :

जैसा कि बीएसएनएल (BSNL) के प्रिंसिपल जनरल मैनेजर (प्रबंध एवम पब्लिक रिलेशन) ने एक खुला पत्र जारी करके लोगों को यह बताया है कि सरकार इस पर बेहद संजीदगी से विचार कर रही है, सरकार बीएसएनएल को 4 जी पर माइग्रेट करके उन्नत बनाने के बारे में सोच रही है, जिसमे एमटीएनएल को भी शामिल किया जा सकता है, ये बात और है कि बीएसएनएल और एमटीएनएल (MTNL) दोनो ही कंपनियां न सिर्फ सरकारी है बल्कि इस कदर कर्जे में डूबी है कि इन्हें कोई खरीदने के लिए भी तैयार नही है।

वाजिब सवाल यह भी है कि आखिर सरकार किस तरह से इन कंपनियों के नए जीवन का कदम उठाएगी, क्योकि इन कंपनियों में लालफीताशाही इस कदर हावी है कि आप इनपर अरबों खर्च करिये 2 साल में ये अपने स्टार्टिंग पॉइंट पर ही होगी।