बाँदा सपहाई गुरौली गोलीकांड
बाँदा सपहाई गुरौली गोलीकांड|उदय बुलेटिन
देश

बाँदा: गुरौली सपहाई गोलीकांड में नया खुलासा, गांव के ही राधेश्याम तिवारी ने मुहैया कराया था असलहा

बाँदा अंतर्गत बबेरू के बहुचर्चित गोलीकांड कांड में सूत्रों ने सनसनीखेज खुलासा किया है, पुलिस इंटेरोगेशन में गोलीकांड के मुख्य आरोपी अखिलेश उर्फ बच्चा ने हथियार मुहैया कराने के बारे में सच उगल दिया है

Shivjeet Tiwari

Shivjeet Tiwari

राधेश्याम तिवारी ने रची थी साजिश:

ज्ञात हो बीते दिन बाँदा जिले के बबेरू कोतवाली अंतर्गत पुलिस चौकी पखरौली के ग्राम गुरौली सपहाई में खेत जोतने जा रहे किसान युवक पर गांव के ही दबंग और गुंडे प्रकृति के व्यक्ति अखिलेश ने जान लेने के इरादे से गोली चलाई थी जिससे ट्रैक्टर ले जाते हुए युवक सुरेंद्र शुक्ला उर्फ बउआ जमीन पर गिर पड़ा। इसपर अब पुलिस पूंछताछ में नया मामला सामने आया है। पुलिस में उपलब्ध सूत्रों के अनुसार यह जानकारी सामने आई है कि यह घटना तेज आवेश में कई गयी घटना नहीं थी, बल्कि इस मामले में नए आरोपी व्यक्ति राधेश्याम तिवारी ने गोली चलाने वाले युवक अखिलेश को अवैध देशी तमंचा और भारी संख्या में 315 बोर के कारतूस मुहैया कराए थे। ताकि अगर दूसरे पक्ष से कोई प्रतिरोध हो तो गोली चलाते समय असुविधा न हो।

पहले से हुई थी प्लानिंग:

अगर सूत्रों की माने तो इस हादसे को अंजाम देने के लिए गांव का ही राधेश्याम तिवारी ने पहले से भारी तैयारी की थी जिसके लिए राधेश्याम ने अखिलेश के लिए कहीं से नया तमंचा मुहैया कराया था। जिससे हत्या सुनिश्चित की जा सके, इसके लिए भारी संख्या में कारतूसों का इंतजाम किया गया था। ज्ञात हो कि गोली से घायल सुरेंद्र की जान लेने के लिए कई राउंड फायर किए गए थे। लेकिन अब इसे सुरेंद्र की किस्मत कहे या कुछ और सुरेंद्र को गोली पीठ से होते हुए शरीर मे ही अटक गई। हालांकि अभी तक बाँदा पुलिस द्वारा नए आरोपी के खिलाफ कोई कार्यवाही नहीं की गई है जबकि राधेश्याम तिवारी गांव में स्वच्छंद तरीके से घूम रहा है।

झांसी में एडमिट है सुरेंद्र:

बबेरू सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र से रेफेर होने के बाद घायल युवक को बाँदा में परीक्षण के लिए रखा गया था इसके बाद बाँदा जिला अस्पताल से मेडिकल कालेज झांसी के लिए रिफर किया गया है। जहां पर सुरेंद्र का लगातार इलाज चल रहा है।

उदय बुलेटिन के साथ फेसबुक और ट्विटर जुड़ने के लिए यहाँ क्लिक करें।

उदय बुलेटिन
www.udaybulletin.com