उदय बुलेटिन
www.udaybulletin.com
Amit Shah in Moradabad
Amit Shah in Moradabad|Twitter-BJP
देश

एयर स्ट्राइक और सर्जिकल स्ट्राइक से लोकसभा चुनाव जीतेंगे अमित शाह के सिपाही

Amit Shah in Moradabad: भाजपा राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह मुरादाबाद, उत्तर प्रदेश में ‘विजय संकल्प सभा’ को संबोधित किया। 

AKANKSHA MISHRA

AKANKSHA MISHRA

चुनाव है, नेता तो बयानबाजी करेगें ही। समझना जनता को है कि, वो किस बयान को याद रखे और किसे भूल जाये। बीते दिनों केंद्रीय मंत्री और पूर्व बीजेपी अध्यक्ष नितिन गडकरी ने आईएएनएस को दिए अपने इंटरव्यू में कहा था कि पाकिस्तान के बालाकोट में आतंकवाद के खिलाफ भारतीय वायु सेना द्वारा की गई कार्यवाई को लोकसभा चुनाव से नहीं जोड़ कर देखना चाहिए और न ही राजनीतिक लाभ के लिए इसका श्रेय लेना चाहिए। नितिन गडकरी जी की ये बात सराहनीय है। आतंकवाद के खिलाफ हर लड़ाई में देश को एक जुट हो कर लड़ना चाहिए न कि इसका राजनीतिकरण किया जाना चाहिए। लेकिन बीजेपी के नेताओं को कौन समझाए आज भी वायु सेना की सफल कार्यवाई का राजनीतिकरण करने में लगे हैं और विपक्ष से ज्यादा हंगामा खुद ही कर रहे हैं।

भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह आज उत्तर प्रदेश के मुरादाबाद में 'विजय संकल्प सभा' को संबोधित कर रहे थे। वहां वे अपने चित-परिचत अंदाज में नज़र आये और फिर शुरू सर्जिकल स्ट्राइक की कहानी। सर्जिकल स्ट्राइक का श्रेय लेते हुए अमित शाह ने कहा कि, उरी में जब आतंकवादियों ने हमला किया, तो नरेन्द्र मोदी जी की सरकार के रहते ही थल सेना ने पाकिस्तान में जाकर सर्जिकल स्ट्राइक की और आतंकवादियों का खात्मा किया। सर्जिकल स्ट्राइक से पहले अमेरिका और इजराइल दो ही देश ऐसे थे, जिन्होंने अपने यहां हुए हमलों का बदला लिया था, मोदी जी ने इन देशों की सूची में तीसरा नाम भारत का जोड़ दिया है।

अमित शाह ने न सिर्फ सर्जिकल स्ट्राइक का श्रेय लिया बल्कि विपक्षियों को भी लताड़ लगा दी। अमित शाह ने कहा कि, एयर स्ट्राइक के बाद पूरे देश में उत्साह था, पूरे देश के अंदर हौसला जगा, पूरे देश के अंदर में चेतना जगी, पूरे देश में स्वाभिमान जगा और ये विपक्ष के लोग मातम मना रहे थे, छातियां पीट-पीट कर हाय तौबा कर रहे थे। देश को एक ऐसा प्रधानमंत्री चाहिए जिसके शपथ लेते ही दुश्मनों के दिल में डर बैठ जाए। आतंकवादियों को बिरयानी खिलाने के दिन अब समाप्त हो गये हैं। देश में अब मोदी जी की सरकार है। मोदी जी की सरकार ने अलगाववादी नेताओं की सुरक्षा वापस ली है। देश विरोधी संगठनों पर प्रतिबंध लगाया है। देश की सुरक्षा आज सबसे बड़ा मुद्दा है। मोदी जी के अलावा और कोई देश की सुरक्षा सुनिश्चित नहीं कर सकता।

बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह के अनुसार रोजगार, स्वास्य्थ सेवाएं, शुद्ध पेयजल, बिजली, अच्छी सड़क,खेतों के लिए पानी, कृषि ऋण, बेहतर कानून व्यवस्थ और शिक्षा मुद्दा नहीं है। बस देश की सुरक्षा एक मात्र मुद्दा है। क्योंकि इन सभी मुद्दों पर बीजेपी नाकाम रही है। विपक्षी पार्टियां इन मुद्दों पर केंद्र सरकार को घेरे बैठी है। इसलिए बीजेपी अध्यक्ष देशहित को सबसे बड़ा मुद्दा बनने में अमादा।