उदय बुलेटिन
www.udaybulletin.com
 बीजेपी चुनाव कैम्पेन
बीजेपी चुनाव कैम्पेन|Twitter
देश

अनजाने में रेलवे से हुई बड़ी हुई गलती, फजीहत में पड़ सकते हैं नरेंद्र मोदी 

रेलवे एक बार फिर आदर्श आचार संहिता के उल्लंघन के आरोपों में घिर गया जब यात्रियों ने शुक्रवार को कहा कि उन्हें जिन पेपर कपों में चाय दी गई उस पर ‘‘मैं भी चौकीदार’’ लिखा था।

AKANKSHA MISHRA

AKANKSHA MISHRA

भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के नेताओं का मानना है कि देश को एक लंबे अरसे बाद नरेंद्र मोदी जैसा प्रधानमंत्री मिला है, जिसके बारे में छाती चौड़ी करके बोल सकते हैं कि हमारे पास ऐसा प्रधानमंत्री है। नरेंद्र मोदी को 2019 के लोकसभा चुनाव में जनता दोबारा मौका देगी, और हमारा देश एक बार फिर मोदी सरकार के दिखाए रास्ते पर चलेगा और तेजी से विकास करेगा। प्रधानमंत्री मोदी को दोबारा सत्ता में लाने के लिए बीजेपी हर तरह प्रयास कर रही है। साम-दाम दंड-भेद, सभी संभव उपाय अपनाए जा रहे हैं। और इसी क्रम में रेल मंत्री पियूष गोयल का रेल विभाग सुर्ख़ियों में हैं। पियूष गोयल के मंत्रालय ने आदर्श आचार सहिंता का उल्लंघन करते हुए जिन पेपर कपों में रेलवे में चाय दी जाती है उस पर ‘‘मैं भी चौकीदार’’ लिखा दिया। जिसके बाद रेलवे आदर्श आचार संहिता के उल्लंघन के आरोपों में घिर गया।

दरअसल काठगोदाम शताब्दी एक्सप्रेस में यात्रा कर रहे एक यात्री ने पेपर कप की एक तस्वीर के साथ ट्वीट किया और वह वायरल हो गया। जिसके बाद रेलवे ने कहा कि उसने कप हटा लिए हैं और ठेकेदार को दंडित किया है। ऐसा दावा किया गया कि इन कपों में दो बार चाय दी गई। कप पर विज्ञापन एनजीओ ‘संकल्प फाउंडेशन’ ने दिया था।

कुछ दिन पहले रेलवे पर चुनाव आदर्श आचार संहिता का उल्लंघन करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की तस्वीरों वाली टिकटें जारी करने के आरोप लगे थे। बाद में रेलवे ने सफाई दी कि यह ‘‘अनजाने में हुई गलती’’ है।

आईआरसीटीसी के एक प्रवक्ता ने बताया, ‘‘उन खबरों की जांच की गई जिनमें कहा गया कि ‘मैं भी चौकीदार’’ लेबल वाले कपों में चाय दी गई। यह आईआरसीटीसी की बिना पूर्व मंजूरी के किया गया। सुपरवाइजर/पैंट्री प्रभारियों से ड्यूटी से लापरवाही बरतने को लेकर स्पष्टीकरण मांगा गया है।’’ उन्होंने कहा, ‘‘सेवा प्रदाता पर एक लाख रुपये का जुर्माना लगाया गया है। इस कदाचार के लिए सेवा प्रदाता को कारण बताओ नोटिस भी जारी किया गया है।’’