बीजेपी के बागी नेता यशवंत सिन्हा के बेटे जयंत सिन्हा पास हो गए 

पिता बागी, बेटा सहभागी 
बीजेपी के बागी नेता यशवंत सिन्हा के बेटे जयंत सिन्हा पास हो गए 
Hazaribagh Loksabha Result 2019Google

सीट नाम : हज़ारीबाग़ लोकसभा सीट

मौजूदा प्रत्यासी : पूर्व वित्त मंत्री के बेटे और वर्तमान राज्य उड्यनमंत्री जयंत सिन्हा (बीजेपी) और गोपाल प्रसाद शाहू (कांग्रेस)

चुनावी नतीजा :भारतीय जनता पार्टी के जयंत सिन्हा 7,27,359 वोट पा कर 4,78,022 वोटों से जीत गए। कांग्रेस के गोपाल प्रसाद शाहू को महज 249022 वोट मिले।

हज़ारीबाग़ लोकसभा चुनाव परिणाम
हज़ारीबाग़ लोकसभा चुनाव परिणामभारतीय निर्वाचन आयोग

जयंत सिन्हा का परिचय

केंद्र सरकार में राज्य नागरिक उड्यन मंत्रालय के पद पर तैनात जयंत सिन्हा किसी पहचान के मोहताज नहीं है। देश की राजनीति से उनका पुराना रिश्ता है। बीजेपी में परिवारवाद की राजनीति के प्रमुख चेहरे जयंत सिन्हा के पिता यशवंत सिन्हा भारतीय जनता पार्टी के शीर्ष नेताओं में शामिल रहे हैं। अटल बिहारी वाजपेयी की सरकार में यशवंत सिन्हा वित्त मंत्री भी रहे थे।

2014 की मोदी लहर में झारखण्ड की हज़ारीबाग़ लोकसभा सीट से (जो पहले यशवंत सिन्हा की लोकसभा सीट थी) चुनाव जीत कर जब पहली बार जयंत सिन्हा संसद पहुंचे तो उन्हें केंद्र सरकार में राज्य वित्त मंत्री का दर्जा मिला। उन्हें इस पद से ज्यादा की उम्मीद थी लेकिन मोदी कैबिनेट में उन्हें राज्य मंत्री बनाया गया। बाद में जब कैबिनेट की फेर-बदल हुई तो उन्हें राज्य नागरिक उड्यान मंत्रायल का पद दिया गया। जयंत सिन्हा को इसबार मोदी कैबिनेट में केंद्रीय मंत्री बनाए जाने की उम्मीद है।

जयंत सिन्हा की उबलब्धि

जयंत सिन्हा की हज़ारीबाग़ में सबसे खास उबलब्धि यही है कि वो यशवंत सिन्हा के बेटे हैं। राजनीति में उनका पदार्पण अपने पिता के साथ 1998 में हुआ था। उस समय वो अपने पिता को सक्रिय रूप से मदद किया करते थे। लेकिन 2009 में जब यशवंत सिन्हा ने बीजेपी के उपाध्यक्ष पद से इस्तीफा दिया और सक्रिय राजनीति का त्याग कर दिया तब 2014 में जयंत सिन्हा बीजेपी से जुड़े और पहली बार 2014 में ही चुनाव लड़ा और जीते भी। जयंत सिन्हा इस बार दोबारा जीत कर संसद पहुंच रहे हैं। जयंत पिछली बार 1,60,000 वोटों से जीते थे और बार 4,78,022 वोटों से जीते हैं। जाहिर सी बात है वोट की तरह इसबार संसद में उनका कद भी बढ़ेगा।

⚡️ उदय बुलेटिन को गूगल न्यूज़, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें। आपको यह न्यूज़ कैसी लगी कमेंट बॉक्स में अपनी राय दें।

Related Stories

उदय बुलेटिन
www.udaybulletin.com