बांदा मेडिकल कालेज खुद बना कोरोना हॉटस्पॉट, प्राचार्य समेत अन्य तीन डाक्टर पॉजिटिव पाए गए

"पहले मेडिकल कालेज प्रशासन ने ट्रू नेट मशीन के जरिये दोहरी टेस्टिंग की थी, जिसमे रिजल्ट पॉजिटिव पाए जाने के बाद आरटी-पीसीआर कोविड टेस्टिंग के लिए सैंपल झांसी भेजा गया था, अब रिपोर्ट आ चुकी है।
बांदा मेडिकल कालेज खुद बना कोरोना हॉटस्पॉट, प्राचार्य समेत अन्य तीन डाक्टर पॉजिटिव पाए गए
Banda Medical College Became Corona HotspotGoogle Image

बाँदा स्थिति राजकीय मेडिकल कालेज में प्राचार्य मुकेश कुमार यादव की कोरोना जांच की पुष्टि हो चुकी है और नतीजन जांच में कालेज प्राचार्य कोरोना पाजिटिव पाए गए हैं। इतना ही नहीं भेजे गए सैंपलों में प्राचार्य की पत्नी और तीन अन्य सहयोगी डाक्टर जो प्राचार्य के आस-पास रहते है उनकी भी रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव पाई गई है। हालकि जांच को भेजे गए सैंपल में प्राचार्य की बेटी निगेटिव पाई गई है। इसके बाद से ही जिले में हड़कंप की स्थिति बनी हुई है। क्योंकि इस मामले में प्रदेश के शिक्षा मंत्री भी लिपटते हुए नजर आ रहे हैं। दरअसल सुरेश खन्ना पिछले हफ्ते बांदा मेडिकल कालेज आये थे और प्राचार्य ने उन्हें सम्मानपूर्वक गुलाब का फूल दिया था।

बेटी का टेस्ट आया निगेटिव:

कालेज प्राचार्य के साथ उनकी पत्नी और बेटी का भी सैंपल झांसी भेजा गया था जहाँ पर प्राचार्य समेत उनकी पत्नी कोरोना पाजिटिव पाई गई लेकिन वहीँ पर उनकी बेटी का टेस्ट निगेटिव आया है। मामले को लेकर हालात इतने बदल चुके है कि बांदा मेडिकल कालेज को ही कोरोना हॉटस्पॉट बनाया जा रहा है।

शिक्षा मंत्री समेत अन्य होंगे क्वारंटाइन:

चूंकि अचानक इतने लोगों में कोरोना पाजिटिव पाए जाने के बाद जो भी व्यक्ति प्राचार्य के संपर्क में आये होंगे उन्हें क्वारण्टाइन किया जाना प्रस्तावित है। मेडिकल कालेज में जो भी व्यक्ति इस समय कार्यरत है और कॉन्टैक्ट ट्रेसिंग में आएंगे उन्हें खोजा जा रहा है। देखना यह होगा कि अब मेडिकल कालेज की स्थिति क्या रहती है।

⚡️ उदय बुलेटिन को गूगल न्यूज़, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें। आपको यह न्यूज़ कैसी लगी कमेंट बॉक्स में अपनी राय दें।

No stories found.
उदय बुलेटिन
www.udaybulletin.com