Banda bhuragarh electricity Crisis (Symbolic image)
Banda bhuragarh electricity Crisis (Symbolic image)|Uday Bulletin
देश

भूरागढ़ जेई ने की उपभोक्ताओं के साथ बदतमीजी, कहा लाइट अब सुबह ही आएगी

इससे पहले भी इस जेई पर ग्रामीण उपभोक्ताओं से बदतमीजी करने के आरोप लग चुके है लेकिन विभागीय साठगांठ के चलते अभी तक कोई कार्यवाही नही हो पाई।

Shivjeet Tiwari

Shivjeet Tiwari

बाँदा जिले के थाना मटौन्ध क्षेत्र के अन्तर्गत आने वाले ग्राम लोहरा के उपभोक्ताओं ने भूरागढ़ औद्योगिक क्षेत्र के पावर हाउस में तैनात जेई पर आरोप लगाया कि यह समस्या होने पर न तो निदान करते है और न ही बीजली उपभोक्ताओं की कोई बात सुनते हैं साथ ही साथ बिजली न आने की शिकायत करने पर बदतमीजी से पेश आते हैं।

ताजा मामला लोहरा ग्राम समेत करीब 50 मजरों और गावों की विद्युत आपूर्ति से जुड़ा हुआ था करीब 18 घंटे बीत जाने के बावजूद भी जब एक मामूली से फाल्ट की वजह से विद्युत आपूर्ति बहाल नहीं हुई तो लोहरा गांव के ही केपी त्रिपाठी जी ने भूरागढ़ के पावर हाउस और उसमें तैनात तीन लाइनमैनों से बात की, लेकिन बात करने के बाद भी बिजली आपूर्ति बहाल नहीं की गई और समय बीतने के बाद जिम्मेदार लोगों के सरकारी और निजी फोन स्विच ऑफ होते गए तो भूरागढ़ जेई के सीयूजी नम्बर पर फोन किया गया जो लगातार बंद आता रहा।

किसी प्रकार से केपी त्रिपाठी जी ने जब इस मामले में जेई का निजी मोबाइल नंबर खोजा और बात की तो जेई से बात करने पर पता चला कि अब बिजली सुबह ही आएगी, इसपर केपी त्रिपाठी द्वारा पूंछा गया कि जब सरकार के साफ निर्देश है कि ट्रांसफॉर्मर फ़ुकने पर भी 24 घंटे में आपूर्ति बहाल की जाती है तो फिर एक माइनर से फाल्ट पर इतनी सुस्ती क्यों? इस पर जेई ने साफ शब्दों में बयान दिया कि अब आपूर्ति सुबह ही मिल पाएगी और इसे ऑफिसियल स्टेटमेंट बताया।

हालांकि यह पहला वाकया नहीं है जब जेई ने ग्रामीणों से इतनी तल्खी से बात की है दरअसल क्षेत्र में लगे हुए लाइनमैन निजी कार्यो में व्यस्त रहते है और लोगों से पैसे लेकर प्राइवेट काम करते हुए नजर आते हैं। ग्रामीणों ने इस मामले में जेई से सांठगांठ और लाइनमैनों की हीलाहवाली को लेकर तमाम आरोप लगाए हैं।

उम्मीद हैं कि योगी सरकार ऐसे निक्कमे अफसरों पर कोई उचित कार्यवाई करेगी जिससे कि ग्रामीणों को इस तरह की बिजली समस्या से रोज-रोज नहीं झूझना पड़े। बातचीत के दौरान नाम पूछने पर जेई ने अपना नाम रजनीश बताया।

उदय बुलेटिन के साथ फेसबुक और ट्विटर जुड़ने के लिए यहाँ क्लिक करें।

उदय बुलेटिन
www.udaybulletin.com