SBI Minimum Balance Charges
SBI Minimum Balance Charges|Google
देश

टूटती बैंकिग व्यवस्था पर स्टेट बैंक ऑफ़ इंडिया ने लगाया लोगों को मरहम। 

बचत खातों पर मिनिमम बैलेंस के नाम पर खिंचे जाने वाले पैसों पर लगी लगाम, तिमाही एसएमएस चार्जेस से भी मिलेगा छुटकारा। 

Shivjeet Tiwari

Shivjeet Tiwari

सेविंग एकाउंट हुआ जीरो एकाउंट :

देश की अग्रणी बैंकिग सेवा प्रदाता और सबसे बड़ी सार्वजनिक क्षेत्र की राष्ट्रीयकृत बैंक भारतीय स्टेट बैंक ने अपने बचत खाता धारकों को बड़ी राहत की खबर दी है। खुद एसबीआई ने ट्वीट करके इस बारे में जानकारी दी कि जनवरी 2020 से सभी बचत खाता धारकों से निर्धारित राशि न रखने पर जो चार्ज वसूला जाता था वह माफ कर दिया गया है। इसके साथ ही अब सभी बचत खाता धारक शून्य एकाउंट बैलेंस की श्रेणी में आ जाएंगे। इसके साथ ही एसबीआई ने खाते के परिचालन सम्बंध में एसएमएस एलर्ट के लिए लिए जाने वाले तिमाही शुल्क को भी जनवरी 2020 से समाप्त कर दिया है।

बैंक का होगा बड़ा नुकसान :

हालाँकि यह खबर खाताधारकों के लिए बेहद राहत भरी खबर हो सकती है लेकिन इससे बैंक पर एक अतिरिक्त खर्च बढ़ जाएगा। चूंकि स्टेट बैंक देश की बहुत बड़ी आबादी के खाते संचालित करती है ऐसे में अगर बैंक इस तरह के खर्च को माफ करती है तो यकीनी तौर पर उसे अन्य मदों से खर्चे जुटाने होंगे।

रविशंकर प्रसाद ने धन्यवाद दिया :

केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने एसबीआई को टैग करते हुए ट्वीट किया है जिसमें उन्होंने स्टेट बैंक की इस पहल पर धन्यवाद ज्ञापित किया है। उन्होंने कहा कि लाखों गरीब भारतीयों को इससे फायदा होगा।

उदय बुलेटिन के साथ फेसबुक और ट्विटर जुड़ने के लिए यहाँ क्लिक करें।

उदय बुलेटिन
www.udaybulletin.com