उदय बुलेटिन
www.udaybulletin.com
प्राथमिक मदरसे
प्राथमिक मदरसे|google image
देश

मदरसों को बंद करने से कश्मीर से लेकर देश के अलग-अलग राज्यों से आतंकवाद पूरी तरह जड़ से खत्म हो जाएगा ?

मदरसों को बंद करने से कश्मीर से लेकर देश के अलग-अलग राज्यों से आतंकवाद पूरी तरह जड़ से खत्म हो जाएगा

Ajeet Bhatnagar

Ajeet Bhatnagar

Summary

सेंट्रल वक्फ बोर्ड के चेयरमैन वसीम रिजवी ने केंद्र सरकार को पत्र लिखकर देशभर के मदरसे बंद करने का आग्रह किया

Wasim Rizvi
Wasim Rizvi
oneindia

लखनऊ , 2 मार्च | उत्तर प्रदेश शिया सेंट्रल वक्फ बोर्ड के चेयरमैन वसीम रिजवी ने प्राथमिक मदरसों को बंद किए जाने के प्रस्ताव संबंधी अपने पत्र को केंद्र सरकार द्वारा आगे की कार्रवाई के लिए मानव संसाधन विकास मंत्रालय को भेजने पर खुशी जताई है। उन्होंने कहा कि प्राथमिक मदरसों को बंद करने से कश्मीर से लेकर देश के अलग-अलग राज्यों से आतंकवाद पूरी तरह जड़ से खत्म हो जाएगा। रिजवी ने भारत सरकार द्वारा भेजे गए पत्र की जानकारी देते हुए बताया कि मेरे द्वारा केंद्र सरकार को लिखे गए पत्र को स्वीकार कर उस प्रस्ताव को मानव संसाधन मंत्रालय को भेज दिया गया है, जो कि बहुत अच्छी बात है।

उन्होंने कहा, "जेहादी मदरसों पर सरकार को तत्काल रोक लगानी चाहिए। बच्चों का मन और मस्तिष्क कोमल होता है और उन्हें आसानी से गलत रास्तों की तरफ मोड़ा जा सकता है। ऐसे में ये जरूरी है कि मदरसों को बंद कर दिया जाए।"

रिजवी ने कहा, "हिदुस्तान में ग्रामीण क्षेत्रों में चल रहे प्राथमिक मदरसे चंदे की लालच में हमारे बच्चों के भविष्य को खराब करने पर आमादा हैं। प्राथमिक मदरसों को बंद करने से कश्मीर से लेकर देश के अलग-अलग राज्यों से आतंकवाद पूरी तरह जड़ से खत्म हो जाएगा।"

गौरतलब है कि वसीम रिजवी ने केंद्र सरकार को पत्र लिखकर देशभर के मदरसे बंद करने का आग्रह किया था।

पत्र में रिजवी ने लिखा, "मदरसों में छात्रों को निशाना बनाते हुए आंतकी संगठन आईएसआईएस की विचारधारा को फैलाया जा रहा है। वह लगातार अयोध्या में राममंदिर बनाने की पैरोकारी कर चुके हैं और इस पर रोड़े अटकाने के लिए सुन्नी मुसलमानों को दोषी भी ठहरा चुके हैं।"