कामदगिरि में घूमे अखिलेश यादव, राजनीतिक रहा दौरा

महान कवि रहीमदास जी ने कामदगिरि की महिमा का बखान करते हुए कहा था कि" चित्रकूट में रमि रहे, रहिमन अवध नरेश, जा पर विपदा परत है, सो आवे यहि देश"
कामदगिरि में घूमे अखिलेश यादव, राजनीतिक रहा दौरा
कामदगिरि में घूमे अखिलेश यादवTwitter

बुंदेलखंड के बाँदा चित्रकूट का रहा दौरा:

बीते दिनों सपा मुखिया अखिलेश यादव चित्रकूट समेत बाँदा जिले के परिक्षेत्र में चक्कर लगाते देखे गए, कहने के हिसाब से तो यह दौरा महज एक धार्मिक दौरा था। लेकिन कार्यकर्ताओं को साधने और लोगों से मिलने के ढंग ने इसे विशुद्ध राजनैतिक बना दिया ज्ञात हो कि सपा मुखिया बीते कुछ दिनों से यात्रा पर है। यात्रा का यह पड़ाव भगवान राम के वनवास क्षेत्र चित्रकूट से होते हुए बाँदा शहर और उसके बाद रायबरेली जिले तक पहुँचा, यहां सपा मुखिया अखिलेश ने क्षेत्र के सभी सपा कार्यकर्ताओं के बीच प्राण फूंकने का काम किया, आपको बताते चलें कि सपा प्रमुख का यह दौरा काफी अर्से बाद हुआ है। चूंकि यहां पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, गृह मंत्री अमित शाह और उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ लगातार दौरा कर चुके है। हाल में ही यहाँ उत्तर प्रदेश सरकार में उपमुख्यमंत्री के तौर भाजपा नेता केशव मौर्य ने शिरकत की थी। अखिलेश यादव का यह दौरा इसका जवाब माना जा सकता है।

हुई रोचक घटनाएँ:

अखिलेश यादव का यह दौरा कई रोचक घटनाओं से भरा रहा इस दौरान जब पूर्व मुख्यमंत्री चित्रकूट धाम की "कामदगिरि परिक्रमा" के लिए प्रमुख द्वार मुखारविंद में पहुंचे तो वहां पर उपस्थित महंत ने उनसे दर्शनार्थी पत्रिका पर संस्मरण अंकित कराया जहाँ पर अखिलेश यादव अपनी अंग्रेजी भाषा मे लिखने के टोके गए, दरअसल अखिलेश मंदिर में आने के विवरण को अंग्रेजी भाषा मे लिखने का प्रयास कर रहे थे।

वहीँ जब अखिलेश यादव परिक्रमा मार्ग में "बरहा के हनुमान जी" के दर्शन करने के लिए पहुँचे जहाँ पर टंगे हुए घंटे को बजाने के लिए उछले लेकिन घंटे की ऊंचाई होने की वजह से ऐसा संभव नही हो पाया। हालांकि पूर्व मुख्यमंत्री ने दोबारा ऐसा करने की हिम्मत नही की।

बाँदा में पूर्व कांग्रेसी नेता के घर जुटा जमघट:

कुँवर विवेक सिंह जिले में कांग्रेस के दिग्गज नेता माने जाते रहे है लेकिन विगत कोरोना काल मे उनका देहांत दिल्ली के एक निजी अस्पताल में लंबी बीमारी के बाद हुआ था। सपा मुखिया ने इस बार कार्यक्रम में स्वर्गीय कुँवर विवेक सिंह के आवास को अपना अड्डा बनाया और जिले भर के कार्यकर्ताओं से मुलाकात की। सपा मुखिया ने बाँदा जिले की चुनिंदा गलियों में जाकर हालात का जायजा भी लिया। इस भ्रमण के दौरान वो सपा जिलाध्यक्ष के घर तक भी पहुँचे। यात्रा के अगले पड़ाव के लिए सपा मुखिया ने फतेहपुर और रायबरेली को अपना क्षेत्र बनाया

⚡️ उदय बुलेटिन को गूगल न्यूज़, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें। आपको यह न्यूज़ कैसी लगी कमेंट बॉक्स में अपनी राय दें।

Related Stories

उदय बुलेटिन
www.udaybulletin.com