60 वर्षीय महिला के साथ शराबी ने किया दुष्कर्म, बड़ी मशक्कत के बाद पुलिस ने लिखी रिपोर्ट

समाज में बुजुर्गों को बड़े ही सम्मान की नजर से देखा जाता है, लेकिन इस 60 वर्ष के बुजुर्ग ने जो किया उस पर आपको घिन आएगा। हम उम्र महिला के साथ दुष्कर्म करने वाले इस व्यक्ति को योगी की पुलिस बचा रही है
60 वर्षीय महिला के साथ शराबी ने किया दुष्कर्म, बड़ी मशक्कत के बाद पुलिस ने लिखी रिपोर्ट
Banda Jaspura Rape caseUday Bulletin

अपराध करने की कोई उम्र नही होती और अपराधी कभी भी भुक्तभोगी की उम्र का लिहाज नहीं करता, कुछ ऐसा ही मामला हुआ है बाँदा जिले के जसपुरा थाना अंतर्गत आने वाले गांव झंझरी पुरवा में जहां एक 60 वर्षीय विधवा महिला के साथ शराबी बुजुर्ग ने हैवानियत की हदें पार कर दी।

शराब के नशे में उम्र का लिहाज नहीं:

वैसे तो इस जघन्य अपराध के लिए कोई भी उम्र जायज नहीं है लेकिन इंसान के अंदर का जानवर इतना कुरूप होगा जाना नहीं गया। बाँदा जिले के अंतर्गत आने वाले थाना जसपुरा के अंतर्गत ग्राम झंझरी पुरवा में विधवा राम प्यारी पत्नी स्वर्गीय राम सजीवन निषाद जो कि डेरे में निवास करती है 23 अगस्त की रात को उसका पड़ोसी बुजुर्ग जगदेव केवट पुत्र झुरिया केवट ने बुरी नियत से चारपाई पर सो रही बुजुर्ग महिला को दबोच लिया और दुष्कर्म करने का प्रयास करने लगा।

नींद में सोई हुई बुजुर्ग महिला ने इस अप्रत्याशित घटना पर अपना विरोध दर्ज कराया तो आरोपी व्यक्ति ने महिला के गुप्तांगों समेत शरीर के अन्य हिस्सों पर लात घूंसे चलाये और दुष्कर्म करके तब भाग निकला जब महिला ने चिल्लाना शुरू किया।

पुलिस ने महिला को भगाया:

पीड़िता द्वारा पुलिस को दी गयी शिकायत
पीड़िता द्वारा पुलिस को दी गयी शिकायतUday Bulletin

मामले की शिकायत लेकर जब महिला नजदीकी थाने जसपुरा पहुंची तो थानाध्यक्ष ने इस मामले में कोई भी प्राथमिकी लिखने से मना कर दिया। उस वक्त तक महिला के गुप्तांग से लगातार खून बहता रहा लेकिन आरोपी पक्ष के पैसों के बल पर न ही पीड़िता की एफआईआर लिखी गयी और न ही कोई मेडिकल परीक्षण कराया गया।

ज्ञात हो कि महिला राज्यसभा सांसद के गांव की निवासी है लेकिन बलात्कार जैसे जघन्य अपराध में पुलिस की असंवेदनशीलता एक बहुत बड़ा सवाल पैदा करती है कि पीड़ित महिला को दर-दर भटकना पड़ रहा है वहीँ आरोपी पैसे के दम पर पीड़िता को लगातार धमकियां दे रहा है।

पैसे से मजबूत है मुख्य आरोपी:

पीड़िता ने उदय बुलेटिन को बताया कि मुख्य आरोपी जगदेव केवट कुछ दिनों पहले ही कोयलारी (कोल इंडिया के अंतर्गत आने वाले किसी उपक्रम) से रिटायर होकर आया हुआ है जिसकी वजह से वह पीड़िता को पैसों का लालच देकर मामले को दबाने की कोशिश कर रहा है और स्थानीय पुलिस को पैसे देकर मामले को रफा-दफा करना चाहता है। चूंकि आरोपी व्यक्ति पैसे से मजबूत है इसलिए पुलिस भी पीड़िता की बजाय आरोपी के पक्ष में बातें करते हुए नजर आ रही है।

⚡️ उदय बुलेटिन को गूगल न्यूज़, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें। आपको यह न्यूज़ कैसी लगी कमेंट बॉक्स में अपनी राय दें।

Related Stories

उदय बुलेटिन
www.udaybulletin.com