उदय बुलेटिन
www.udaybulletin.com
Lipoma amit shah
Lipoma amit shah|Google
देश

आखिर क्या है ये lipoma और अमित शाह ही क्यों हुए इसके शिकार ?

आज के समय में कब किसे कौन सी बिमारी हो जाए इसका अंदाजा भी किसी को नहीं होता है, कुछ ऐसा ही हुआ गृहमंत्री अमित शाह के साथ भी जिसकी वजह से उन्हें ICU में एडमिट होना पड़ा।

Puja Kumari

Puja Kumari

बीते कुछ दिनों से भाजपा पार्टी के नेताओं के बुरे दिन चल रहे है या यूं कह ले तो पूरी पार्टी का ही बुरा वक्त चल रहा है। आप सोच रहे होंगे कि भला हम ऐसा क्यों कह रहे हैं, आपको याद होगा कि पिछले माह ही इस पार्टी ने अपने अहम नेताओं को खो दिया है, जिसमें सुषमा स्वराज व अरुण जेटली हैं। ये इस पार्टी के ही नहीं बल्कि देश के भी महत्वपूर्ण नेता माने जाते थे। अरुण जेटली की बीमारी को लेकर महीनों से चर्चा हो रही थी लेकिन किसी को ये उम्मीद नहीं थी कि वो इतनी जल्दी हम सभी का साथ छोड़ जाएंगे। अभी इन दुःखद खबरों से पार्टी उबरी भी नहीं थी कि गृह मंत्री अमित शाह को लेकर ऐसी खबर सामने आई कि होश ही उड़ गए।

जानकारी मिली है कि अमित शाह को एक बीमारी हो गयी जिसकी वजह से उनका तत्काल ऑपरेशन करना पड़ा। आप भी इस बात को सुनकर चौक गए होंगे लेकिन यह सच है कि बीते 4 सितंबर को अहमदाबाद के कुसुम धीरजलाल हॉस्पिटल में अमित शाह को अचानक ऑपरेशन के लिए ICU में भर्ती होने पड़ा। दरअसल अमित शाह अपने रूटीन चेकअप के लिए उस हॉस्पिटल में गए थे लेकिन वहां उन्हें डॉक्टरों ने बताया कि उनको lipoma नाम की बीमारी हो गयी है और उसका तुरंत ही ऑपरेशन करना होगा।

Lipoma
Lipoma
Google

क्या होता है lipoma

Lipoma देखने में एक गांठ जैसा होता है जो शरीर के किसी भी हिस्से में हो सकता है। डॉक्टरों का कहना है की शरीर में इसका ज्यादा दिनों तक रहना अच्छा नहीं है क्योंकि ये कुछ समय बाद कैंसर का रूप भी धारण कर सकता है। हालांंकि इसका आकार पहले छोटा सा होता है फिर समय के साथ-साथ इसका आकार भी बढ़ता जाता है। Lipoma की एक खास बात यह भी है कि ये 40 से 60 साल के बीच के व्यक्तियों में होने की संभावना ज्यादा रहती है।

ये खासकर उन लोगों में ज़्यादा होता है जिनका वजन काफी होता है, क्योंकि ज्यादा वजन वाले लोगों में फैट की मात्रा अधिक होती है जो कि कई बार जगह जगह एकत्रित होकर गांठ का रूप ले लेती है। वहीं यह भी बता दें कि अगर ये गांठ गर्दन के पीछे के हिस्से या फिर नीचे में हो जाता है तो इंसान को सोने, काम करने या फिर सांस लेने में काफी समस्याएं होने लगती है। गृह मंत्री अमित शाह को भी यह गाँठ गर्दन के पिछले हिस्से में ही हुआ था।

amit shah
amit shah
Google

अब कैसे हैं अमित शाह

हॉस्पिटल की दी गई जानकारी के अनुसार अमित शाह का जिस दिन ऑपरेशन हुआ उसी दिन उन्हें कुछ समय में ही डिस्चार्ज भी कर दिया गया। डॉक्टरों ने बताया कि ये एक छोटा सा ऑपरेशन था और फिलहाल अमित शाह बिल्कुल सही हैं। अमित शाह को यह बीमारी इसलिए हुई क्योंकि उनका वजन ज्यादा है और ऐसे में ये बीमारी होना लाजमी है।