उदय बुलेटिन
www.udaybulletin.com
Bihar Men Marry kashmiri women 
Bihar Men Marry kashmiri women |Social Media
देश

कश्मीरी लड़कियों से हुआ प्यार, शादी करके घर से भगाया तो पुलिस ने किया गिरिफ्तार

कहने को जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटा दिया गया है, लेकिन लोगों के जेहन से इसे कैसे हटा सकते हैं ?

Shivjeet Tiwari

Shivjeet Tiwari

जम्मू-कश्मीर से आर्टिकल 370 और 35 ए हटे हुए जुम्मा-जुम्मा एक महीना ही नहीं बीता की उत्तर प्रदेश के दो आशिकों की गाड़ी निकल पड़ी, तीन साल पहले के प्यार ने अपने इश्क को एक मुकाम दिया और जैसे ही उन्हें पता चला कि अब उनके प्यार में जम्मू और कश्मीर का पुराना कानून अड़ंगा नहीं बनेगा और कोई अड़चन नहीं आएगी तो इन दोनों जुड़वा भाइयों ने दोनों बहनों को कश्मीर से भगाकर बिहार ले आये।

उधर दोनों कश्मीरी लड़कियों के परिजनों ने इस बाबत पुलिस थाने में दोनों लड़कियों को बहला फुसला कर अपहरण की शिकायत दर्ज कराई, पुलिस ने जल्द ही हरकत में आकर बिहार के सुपौल जिले ले आये दोनों युवकों के नाम मोहम्मद तबरेज, और मोहम्मद परवेज है।

दोनों भाई पिछले कुछ सालों से कश्मीर में राजमिस्त्री का काम कर रहे थे इसी बीच दोनों भाइयों को दो कश्मीरी बहनों से प्यार हुआ और शादी करने का निर्णय किया लेकिन कश्मीर की स्वयत्तता उनके इश्क के दीवार बन कर खड़ी थी, हालांकि अमित शाह के निर्णय ने उनकी बांछे खिला दी और दोनों युवाओं ने ये कारनामा करने का हिम्मत कर दिखाया।

हालांकि मुकदमे के कारण पुलिस ने दोनों बहनों को सुपौल से लेकर सुपौल मजिस्ट्रेट के सामने प्रस्तुत किया , जहाँ दोनों बहनों के बयान रजिस्टर किये गए, दोनों लड़कियों के अनुसार-

"उन्हें किसी प्रकार से न तो बहलाया फुसलाया गया है, और न ही उनका अपहरण हुआ है, हम दोनों लोग पूरी तरह से बालिग है और अपना अच्छा बुरा जानते है, हम पिछले तीन सालों से प्यार कर रहे है और अपनी मर्जी से तबरेज और परवेज के साथ बिहार आये है, हमने मुस्लिम रीति रिवाज से शादी की है अब हम अपने पतियों के साथ रहना चाहती है।"

हालांकि इस पर पुलिस ने भी अपनी प्रतिक्रिया दी है जिसमें पुलिस के अनुसार "हमें जो शिकायत मिली थी हमने उसका पालन किया है, हमने दोनों लड़कियों को मजिस्ट्रेट के सामने प्रस्तुत किया है, अब इस मामले में कश्मीर के मजिस्ट्रेट अपना निर्णय देंगे।"

भले ही भारत मे प्रेमी प्रेमिकाओं के घर से भागने की हजारों घटनाएं सामने आती हो ,लेकिन कश्मीर से जुड़ी घटना होने के कारण लोगों में इस घटना को लेकर काफी दिलचस्पी है, लोगों के अनुसार अगर वो बालिग है और बकायदा निकाह किया है तो उन्हें साथ रहने देना चाहिए, भारत का संविधान इसकी पूरी आजादी देता है।"