उदय बुलेटिन
www.udaybulletin.com
पति-पत्नी के झगड़े के चलते जनता एक्सप्रेस सवा घंटे रुकी 
पति-पत्नी के झगड़े के चलते जनता एक्सप्रेस सवा घंटे रुकी |Social Media
देश

स्टेशन पर झगड़ रहे थे पति-पत्नी, 1 घंटे 20 मिनट तक रुकी रही ट्रेन 

पत्नी ने पति की स्टेशन पर ही बड़ी बेरहमी से कुटाई कर दी। 

AKANKSHA MISHRA

AKANKSHA MISHRA

उत्तराखंड की राजधानी देहरादून से एक दिल दहलाने वाली खबर मिली है। खबर ऐसी है जिसे सुनकर किसी के भी रोंगटे खड़े हो जाएंगे और हर पति-पत्नी भगवान से मिन्नते करेगा की उनके साथ ऐसा कभी ना हो। दरअसल रोजाना की तरह जनता एक्सप्रेस देहरादून से वाराणसी जाने के लिए स्टेशन पर खड़ी थी। यात्री ट्रेन में सवार हो रहे थे। शाम के करीब पौने छह बजे थे तभी पूछताछ के लिए एक व्यक्ति रेलवे स्टेशन के परिसर में पहुंचा और वहां जाकर उसने मौजूदा कर्मचारी से कहा कि 'जनता एक्सप्रेस में धमाका होने वाला है, ट्रेन में बम लगाया गया है और यह धमाका देहरादून से डोईवाला के बीच होगा। इसलिए इस ट्रेन को जाने मत दो। जिसके बाद वो व्यक्ति गायब हो गया।

सवा घंटे देरी के खुली ट्रेन

बम ब्लास्ट की खबर सुनकर रेलवे और पुलिस महकमें में हड़कंप मच गया। ट्रेन को स्टेशन पर ही रोक दिया गया और पुलिस जाँच में जुट गई। एक तरफ पुलिस बम ब्लास्ट की जाँच कर रही थी तो दूसरी तरफ एक पति-पत्नी का जोड़ा ट्रेन के बाहर झगड़ रहा था। पुलिस पूरे एक घंटे 20 मिनट तक जांच करती रही लेकिन उन्हें कुछ नहीं मिला। जिसके बाद ट्रेन को सवा घंटे की देरी से रवाना कर दिया गया।

बम निरोधक टीम भी मौके पर पहुंची

उस पूछताछ केंद्र में अज्ञात व्यक्ति की सूचना के बाद रेलवे के अधिकारीयों ने देहरादून की एसपी स्वेता चौबे को इसकी जानकारी दी। इस खबर के बाद एसपी सहित रेलवे के सभी वरिष्ठ अधिकारी स्टेशन आ गए और पुलिस को जाँच में सहयोग करने लगे। बम निरोधक दस्ते को भी बुलाया गया और बड़ी संघनता के साथ जाँच हुई। यात्रियों के बैग, लंच बॉक्स सब कुछ चेक किया गया। लेकिन कुछ नहीं मिला।

क्या था माजरा

पुलिस को जांच के बाद जब कुछ नहीं मिला तो उनकी नज़र एक पति-पत्नी पर पड़ी जो ट्रेन के बाहर लड़ाई कर रहे थे। जिसमें पति बार बार ट्रेन रुकवाने की बात बोल रहा था। जब पूछताछ केंद्र के कर्मचारियों को शिनाख्त के लिए बुलाया गया तो इस झूठे मामले की पोल खुल गई। स्थिति सामान्य होने के बाद पुलिस ने ट्रेन को करीब सवा घंटे के बाद रवाना कर दिया।