उदय बुलेटिन
www.udaybulletin.com
केंद्र शासित प्रदेश
केंद्र शासित प्रदेश|Google
देश

किसे कहते हैं केंद्र शासित प्रदेश, किसी राज्य को कैसे मिलता है ये दर्जा ?

जम्मू कश्मीर में धारा 370 खत्म होने के बाद उसके केंद्र शासित प्रदेश घोषित होने पर लोगों के मन में कई सारे सवाल उठ रहे हैं। 

Puja Kumari

Puja Kumari

इस बात में कोई दो राय नहीं है कि मोदी सरकार ने जम्मू कश्मीर को लेकर 5 अगस्त को जो फैसला किया वो ऐतिहासिक फैसला है। यही वजह थी कि हर तरफ इसी फैसले की चर्चा होने लगी, आप सभी जानते हैं कि केंद्र सरकार ने जम्मू कश्मीर से धारा 370 (Article 370) खत्म करने का फैसला कर लिया है, जिसके बाद से कश्मीर को प्राप्त विशेषाधिकार खत्म हो जाएंगे। आप समझ सकते हैं कि जिस तरह से दिल्ली व पुडुचेरी राज्य में सरकारे हैं, जिनके कुछ सीमित अधिकार है उसी तरह से अब जम्मू कश्मीर भी हो जाएगा पर इस बात पर खूब बवाल हो रहा है। इतना ही नहीं इस फैसले के साथ ही साथ राज्यसभा में कुछ अन्य अहम फैसले भी लिए गए, जिसे हम 3 भागों में देख सकते हैं...

1. जम्मू कश्मीर से लद्दाख को निकालकर अलग किया गया

2. जम्मू कश्मीर को केंद्र शासित प्रदेश घोषित किया गया

3. लद्दाख को भी केंद्र शासित प्रदेश घोषित किया गया

अब ऐसे में केंद्र शासित प्रदेश (Union territory) को लेकर भी कई सवाल मन में आ रहे हैं, जैसे कि केंद्र शासित प्रदेश होता क्या है? आखिर इस पर किसका राज चलता है? इनके अधिकार क्या होते हैं, इनका कानून कैसा होता है ? तो आज इन सभी सवालों के जवाब हम आपको देने जा रहे हैं ...

केंद्र शासित प्रदेश
केंद्र शासित प्रदेश
Google

क्या होते हैं ये केंद्र शासित प्रदेश ?

आमतौर पर हम राज्यों के विधानसभा चुनाव को देखते हैं और हर राज्य से वोटर अपना मंत्री चुनता है जो राज्यसभा में जाते हैं और हर राज्य के अनुरूप कानून भी वहां बनाए जाते हैं यानि विधानसभा शासित राज्यों में राज्य सरकार के नियम लागू होते हैं इसके अलावा राज्य की प्रशासनिक व कानून व्यवस्था भी वहां के मुख्यमंत्री के आदेशानुसार चलती है। लेकिन केंद्र शासित प्रदेशों के साथ ऐसा नहीं होता, क्योंकि ऐसे प्रदेशों में भारत सरकार का राज होता है। जैसा कि आप नाम से ही समझ सकते हैं 'केंद्र शासित' यानि केंद्र द्वारा शासित । इन प्रदेशों की कानून व्यवस्था भी केंद्र के अनुरूप ही चलती है तथा राज्य में व्यवस्था सुचारू रूप से चलती रहे इसके लिए केंद्र सरकार उप राज्यपाल की नियुक्ति करती है।

भारत में अब इतने केंद्र शासित प्रदेश

वैसे देखा जाए तो भारत देश में ऐसा पहली बार नहीं हुआ है कि किसी राज्य को केंद्र शासित प्रदेश (Union territory) घोषित किया गया है बल्कि यहां पहले से कुल 7 केंद्र शासित प्रदेश हैं लेकिन अब 2 नए बने केंद्र शासित प्रदेशों को शामिल कर लिया जाए तो इनकी संख्या 9 हो जाएगी।

1. अण्डमान और निकोबार द्वीपसमूह

2. चण्डीगढ़

3. दादरा और नगर हवेली

4. दमन और दीव

5. लक्षद्वीप

6. पुदुच्चेरी

7. दिल्ली का राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र

8. जम्मू कश्मीर

9. लद्दाख

केंद्र शासित प्रदेश
केंद्र शासित प्रदेश
Google

क्यों बनते हैं केंद्र शासित प्रदेश

अब आपके मन में एक यह भी सवाल उठ रहा होगा कि आखिर किसी भी राज्य को केंद्र शासित प्रदेश घोषित करने का कारण क्या होता है ? इसके पीछे कई कारण हो सकते हैं, जैसे अगर कोई राज्य इतनी दूर हो जिसकी वजह से उसपर शासन चलाना मुश्किल हो, उस राज्य की सांस्कृतिक व्यवस्था इतनी अद्भुत हो जिसके कारण उसे किसी राज्य में शामिल न किया जा सके, या वो राज्य काफी छोटा हो जिसे अलग राज्य नहीं बनाया जा सकता, या उसके पास कोई विशेष दर्जा हो जैसे दिल्ली जिसे राजधानी का विशेष दर्जा प्राप्त है ऐसे में इन राज्यों को केंद्र शासित प्रदेश घोषित किया जाता है।

दो प्रकार के होते हैं केंद्र शासित प्रदेश

  • पहला, वो जहां बिना रोकटोक के केंद्र का शासन चलता है।
  • दूसरा, वो जिन केंद्र शासित प्रदेशों की अपनी खुद की विधानसभाएं होती है।

सभी बातों का मतलब यह है कि इन केंद्र शासित प्रदेशों में चाहें विधानसभा हो या फिर न हो अधिकारिक रूप से यहां केंद्र सरकार का ही दबदबा बना रहता है।