उदय बुलेटिन
www.udaybulletin.com
Govind Chavda Gujarat Police officer
Govind Chavda Gujarat Police officer|Social Media
देश

सोशल मीडिया में ‘वासुदेव’ के नाम से फेमस हैं गोविंद चावड़ा, कहा- मैंने कुछ ऐसा किया जो शायद मुझे दोबारा करने को ना मिले

वडोदरा में रिकॉर्ड तोड़ बारिश की वजह से बाढ़ आ गई हैं। 

AKANKSHA MISHRA

AKANKSHA MISHRA

इन दिनों देशभर के कई हिस्सों में मूसलाधार बारिश हो रही है, गुजरात, महाराष्ट्र, बिहार, मध्य प्रदेश सहित कई राज्य मानसून की मार झेल रहे हैं। अगर केवल गुजरात राज्य की बात करें तो वहां पिछले 24 घंटे में 650 मिमी की बारिश हुई है जिसके बाद गुजरात के कई जिलों में बाढ़ जैसी स्थिति उत्पन्न हो गई है, लोग अपना घर छोड़ सुरक्षा केंद्रों में रहने को मजबूर हैं। घरों में पानी घुस गया है, ना लोगों को खाना मिल पा रहा है, ना पीने का साफ पानी। हर तरफ इंद्र देव विराजमान हैं।

इसी बीच सोशल मीडिया में गुजरात का एक वीडियो वायरल हो रहा है, जिसमें एक ऐसे पुलिस वाले की दिलेरी को दिखाया जा रहा है, जिसमें वो एक छोटी बच्ची को बचाने के लिए गर्दन तक पानी में डूबा बैठा है। सोशल मीडिया में यह वीडियो खूब वायरल हुआ, जिसके बाद लोगों ने इस पुलिस वाले को कलयुग का 'वासुदेव' बता दिया।

देवीपुरा इलाके में डेढ़ वर्षीय एक बच्ची को बचाया

वीडियो वायरल होने के बाद लोग पुलिस अफसर की जमकर तारीफ कर रहे हैं। पुलिस अफसर ने जिस तरह बच्ची को बचाया हर कोई उनकी खूब सराहना कर रहा है। लेकिन जब उनसे इस बारे में पूछा गया तो सब-इंस्पेक्टर गोविंद चावड़ा कहते हैं

'उस समय बच्ची को बचा कर बाहर निकलना थोड़ा मुश्किल था, बच्ची सिर्फ डेढ़ साल की थी, लेकिन मुझे लगा मैं जो करने जा रहा हूँ मुझे वो दोबारा करने का मौका शायद ना मिले।

जिसके बाद मैंने एक टब लिया उसमें कुछ कपड़े और बेडशीट रखे और फिर बच्ची को उस टब में डाल दिया। मैंने टब को अपने सर पर रखा और बच्ची को पानी से सुरक्षित स्थान पर ले जाने लगा। पानी काफी ज्यादा था, मेरा गर्दन भी पानी में डूब गया था लेकिन मैंने उसे बाहर निकाल लिया। अब वो पूरी तरह सुरक्षित अपनी माँ के पास है, और ये सबसे अहम है।’

जब सब-इंस्पेक्टर गोविंद चावड़ा ने बच्ची को बचाया तो वह नज़ारा भगवान् श्री कृष्ण के जन्म की याद दिला रहा था, जैसे भगवान श्री कृष्ण को वासुदेव यमुना नदी के बीच से एक टोकरी में लेकर निकल गए थे ठीक वैसे ही गोविंद चावड़ा ने उस बच्ची को बचाया।