उदय बुलेटिन
www.udaybulletin.com
महालक्ष्मी एक्सप्रेस
महालक्ष्मी एक्सप्रेस|Social Media
देश

बाढ़ में फंसी महालक्ष्मी एक्सप्रेस, 600 लोगों को बाहर निकाला गया

महालक्ष्मी एक्सप्रेस में फंसी थी 9 गर्भवती महिलायें।  

AKANKSHA MISHRA

AKANKSHA MISHRA

मुंबई में भारी बारिश की वजह से मुंबई-कोल्हापुर रुट पर चलने वाली महालक्ष्मी एक्सप्रेस कल रात से बारिश में फंसी हुई है। इस ट्रेन में करीब 700 यात्री सवार थे। अब तक मिली जानकारी के अनुसार NDRF की टीम ने मौके पर फंसे 600 लोगों को ट्रेन से बाहर निकाल लिया है और करीब 100 लोगों अब भी ट्रेन में फंसे हैं। बताया जा रहा है कि इन लोगों को भी आधे घंटे के बीच बाहर निकाल लिया जाएगा। बचाव टीम जब लोगों को बाहर निकाल रही थी तब ट्रेन में मौजूद एक गर्भवती महिला की तबियत बिगड़ गई। महिला को लेबर पेन शुरू हो गया। जिसके बाद ट्रेन में मौजूद सभी नव गर्भवती महिला को ट्रेन से तुरंत बाहर निकाला गया और उन्हें हॉस्पिटल में एडमिट कराया गया।

रेलवे ट्रैक पर जल जमाव का कारण

महाराष्ट्र में पिछले 2 दिनों से भारी बारिश का कहर बरपाया हुआ है। मुंबई सहित कई इलाकों में बाढ़ जैसी स्थिति बनी हुई है। बारिश के कारण उल्लास नदी का पानी रेलवे ट्रैक पर जमा हो गया। ट्रेन के दोनों तरह जल इस तरह भर गया था की पटरियां दिखाई ही नहीं दे रही थी। जलभराव के बाद ट्रेन को बीच रास्ते ही रोक दिया गया। यात्री रात 2 बजे से ट्रेन में ही फंसे है। जिसके बाद सुबह गांव वालों की मदद से बात फैली और NDRF , SDRF और रेलवे की बचाव टीम मौके पर पहुंची और यात्रियों को बचाने का काम शुरू हुआ।

महालक्ष्मी एक्सप्रेस के फंसने के बाद इस रुट पर चलने वाली पांच ट्रेनों को रोक दिया गया है। लोकल ट्रेन का परिचालन भी ठप्प है। इसके अलावा 13 अन्य रुट पर चलने वाली गाड़ियों के रुट को बदल दिया गया है वहीं 2 ट्रेनों को रद्द कर दिया गया है।

मुख्यमंत्री ने जारी किया निर्देश

महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने अपने मुख्य सचिव को निर्देश देते हुए कहा है कि वे इस मामले पर व्यक्तिगत रूप से बचाव अभियान की निगरानी करें। NDRF की 4 टीमें पहुंच चुकी हैं और वे 8 नावों की मदद से यात्रियों को बाहर निकाल रही हैं। 7 नौसेना दल, भारतीय वायु सेना के 2 हेलीकॉप्टर, 2 सैन्य कॉलम स्थानीय प्रशासन के साथ तैनात किए गए हैं। ट्रेन में फंसे सभी लोगों को बहुत जल्द बाहर निकाल लिया जाएगा। स्थिति नियंत्रण में है।