उदय बुलेटिन
www.udaybulletin.com
BSP Chief Mayawati With Brother Anand Kumar
BSP Chief Mayawati With Brother Anand Kumar|Social Media
देश

बसपा के नए उपाध्यक्ष आनंद कुमार के घर आयकर की छापेमारी, 400 करोड़ की बेनामी संपत्ति जब्त

मायावती के भाई आनंद कुमार के घर आयकर विभाग की छापेमारी 

AKANKSHA MISHRA

AKANKSHA MISHRA

लोकसभा चुनाव में मिली करारी हार के बाद मायावती समाजवादी पार्टी ने अलग हो गईं थीं और उत्तर प्रदेश में होने वाले उप-चुनाव में अकेले लड़ने का फैसला लिया। तभी एक खबर आई थी कि उप-चुनाव से पहले मायावती के परिवार पर आयकर विभाग की छापेमारी पड़ सकती है। हालांकि बाद में इसे अफवाह बताया गया था। लेकिन आज यह अफवाह सच्चाई में बदल गई। आज मायावती के भाई आंनद कुमार के घर आयकर विभाग ने बड़ा शिकंजा कसते हुए 7 एकड़ की बेनामी संपत्ति जब्त की। बताया जा रहा है कि इस जमीन की कीमत 400 करोड़ रूपये है।

सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार बसपा प्रमुख मायावती के भाई आनंद कुमार और उनकी पत्नी विचित्र लता के मालिकाना हक़ वाले 7 एकड़ वाली जमीन को जब्त करने का अस्थाई आदेश आयकर विभाग की बेनामी निषेध इकाई (BPU) ने 16 जुलाई को जारी किया गया था। जिस पर आज कार्रवाई की गई है। बताया जा रहा है कि यह आदेश बेनामी संपत्ति लेनदेन निषेध अधिनियम 1988 की धारा 24(3) के तहत दिया गया था। जिसमें कहा गया है कि मायावती के भाई और भाभी की संपत्ति को बेनामी समझ कर जब्त किया जाये।

क्या है बेनामी संपत्ति लेनदेन निषेध अधिनियम 1988

दरअसल इस कानून के तहत आरोपी को सात साल की सजा और संपत्ति का 25 फीसदी जुर्माने के तौर पर सरकारी खजाने में जमा कराना होता है। आपको बता दें कि मायावती और उनके भाई आनंद कुमार पर इससे पहले भी कई बार आयकर की कार्रवाई हुई है। मायावती पर सरकारी खजाने के दुरूपयोग करने का आरोप भी लगा है। वहीं उनके भाई आनंद कुमार पर नोटबंदी के दौरान आरोप लगाया गया था। जब उनके खाते में अचानक डेढ़ करोड़ रूपये जमा हो गए थे।

कौन हैं आनंद कुमार ?

मायावती के भाई आनंद कुमार किसी पहचान के मोहताज नहीं है। आनंद कुमार बसपा के उपाध्यक्ष हैं और नोएडा प्राधिकरण में क्लर्क के पद पर तैनात हैं। लेकिन जब मायावती उत्तर प्रदेश की मुख्यमंत्री बनी तो उनकी संपत्ति में गजब का इजाफा हुआ। साल 2014 तक आनंद कुमार करोड़ों के मालिक बन गए थे। उनके पास बेनामी संपत्ति का अंबार है । योगी आदित्यनाथ के मुख्यमंत्री बनने के बाद आयकर विभाग मायवती पर कार्रवाई कर रहा है।