उदय बुलेटिन
www.udaybulletin.com
Mobile Phone Ban In Gujarat
Mobile Phone Ban In Gujarat|Social Media
देश

मोदी जी के गुजरात में लगा मोबाइल फ़ोन पर बैन, उल्लंघन करने वालों को भरना होगा 1.50 लाख का जुर्माना

लड़कियों को वर्जिन और लव मैरिज के जंजाल से मुक्ति दिलाएगा यह फैसला 

AKANKSHA MISHRA

AKANKSHA MISHRA

आम तौर पर हम 21वीं शताब्दी में महिलाओं और पुरुषों के समान अधिकारों की चर्चा करते हैं। कई जगहों पर महिलाएं पुरुषों से आगे निकल गईं हैं। 12वीं की परीक्षा हो या आईएएस की परीक्षा हर जगह महिलाएं प्रथम स्थान पर होती हैं। लेकिन जब बात समाज के दिय अधिकारों, पहनावों और शादी की आती है तो महिलाएं समाज का आधा अंग ना बनकर पुरुषों के हां में हां मिलाने वाली गूंगी गुड़िया रहती जाती हैं। और पुरुषों द्वारा चलाए जा रहे इस समाज में किसी तरह गुजर-बसर करने को मजबूर हो जाती हैं।

अब मुद्दे पर आते हैं। आपने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के गृह राज्य गुजरात के ढेरों किस्से सुने होंगे। विकास मॉडल की चर्चा तो प्रधनमंत्री मोदी खुद ही कई बार कर चुके हैं। आपको ये भी पता होगा कि गुजरात में शराब पर पाबंदी है। और अब गुजरता के बनासकांठा से एक हैरान करने वाली खबर मिली है। दरअसल गुजरता के बनासकांठा में रहने वाले ठाकोर समुदाय (Thakor) ने महिलाओं के लिए एक नया नियम बनाया है। इस नियम के अनुसार अविवाहित महिलाएं (Virgin Girls) अपने पास मोबाइल फोन नहीं रख सकती है। अगर महिलाओं ने नियन तोड़े तो उसका खामियाजा लाखों रूपये चुका कर उनके पिता को भुगतना होगा।

गाँव का अंधा कानून

बनासकांठा के जलोर गाँव की यह घटना है। जहां हर हफ्ते होने वाले समुदाय की मीटिंग में यह फैसला लिया गया कि अब गाँव में रहने वाली हर अविवाहित लड़कियों को (Virgin Girl) मोबाइल फ़ोन का त्याग करना होगा। उन्हें फ़ोन नहीं दिया जाएगा। गाँव वाले भी समुदाय के इस फैसले को संविधान की तरह मान बैठे है। अगर कोई लड़की इस नियम को तोड़ती है तो इस अपराध माना जाएगा और उनके पिता को 1.50 लाख रूपये का जुर्माना भरना होगा। गाँव का यह संविधान आस-पास के 10 गावों में लागू होगा।

जलोर गाँव के सरपंच जयंतीभाई ठाकोर कहते हैं कि “ मोबाइल फ़ोन लड़कियों का दुश्मन बन गया है। लड़कियां फ़ोन रखती हैं और लड़कों के चक्कर में फंस जाती है। उनकी पढाई भी बर्बाद हो जाती है। हम आगे यह नियम लड़कों के लिए भी बनाएंगे। मैं लव मैरिज के खिलाफ कुछ नहीं बोलूंगा, मैंने भी लव मैरिज किया है। लेकिन गांव का नया नियम कहता है अगर कोई भी लड़की अपने घर वालों की मर्जी के बिना शादी करती है तो उसे अपराध माना जाएगा।”

सरपंच आगे कहते हैं कि “हमने शादी को लेकर भी नियम बनाए हैं। गाँव की किसी भी शादी में अब DJ और पटाखे पर पाबंदी होगी। हम इससे बचत कर सकते हैं।”